0 रूस में सिंगल डोज वैक्सीन को मंजूरी: 80% प्रभावी है रूस की स्पुतनिक लाइट का एक ही डोज, बाजार में 10 डॉलर की मिलेगी ये वैक्सीन - कालचक्र

रूस में सिंगल डोज वैक्सीन को मंजूरी: 80% प्रभावी है रूस की स्पुतनिक लाइट का एक ही डोज, बाजार में 10 डॉलर की मिलेगी ये वैक्सीन

  • Hindi News
  • International
  • Russia Sputnik V Efficacy Against All New Coronavirus Strains | Covid 19 Vaccine Sputnik V News

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मॉस्को14 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
स्पुतनिक लाइट को मॉस्को के गमलेया रिसर्च इंस्टीट्यूट ने बनाया है और रशियन डायरेक्ट इंवेस्टमेंट फंड (RDFI) ने फाइनेंस किया है। - Dainik Bhaskar

स्पुतनिक लाइट को मॉस्को के गमलेया रिसर्च इंस्टीट्यूट ने बनाया है और रशियन डायरेक्ट इंवेस्टमेंट फंड (RDFI) ने फाइनेंस किया है।

रूस ने कोरोना की सिंगल डोज वैक्सीन बनाने में सफलता हासिल कर ली है। रूसी सरकार ने वैक्सीन स्पुतनिक लाइट के लोगों पर इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है। रूस के स्वास्थ्य अधिकारियों ने गुरुवार को बताया कि स्पुतनिक लाइट 79.4% प्रभावी है।

इसे मॉस्को के गमलेया रिसर्च इंस्टीट्यूट ने बनाया है। स्पुतनिक-V की तरह इसे भी रशियन डायरेक्ट इंवेस्टमेंट फंड (RDFI) ने फाइनेंस किया है। RDFI ने बयान जारी कर कहा कि स्पुतनिक लाइट से वैक्सीनेशन की रफ्तार तेज होगी। इसकी कीमत 10 डॉलर रखी गई है।

स्पुतनिक-V के डेढ़ लाख डोज भारत आए थे
रूसी वैक्सीन स्पुनतिक V की पहली खेप 1 मई 2021 को भारत आई थी। इसे लेकर आए एक विमान ने हैदराबाद में लैंड किया था। देश में अचानक आई वैक्सीन की कमी को देखते हुए भारत सरकार ने इसे मंजूरी दी थी। देश में इस वैक्सीन का प्रोडक्शन कर रही डॉ. रेड्डीज लैब के CEO (API एंड सर्विसेज) दीपक सपरा ने कहा था कि DCGI की मंजूरी के बाद हमें डेढ़ लाख डोज का पहला शिपमेंट मिला है। लोगों को यह वैक्सीन कुछ हफ्तों में मिलने लगेगी।

स्पुतनिक V एक वायरल वेक्टर वैक्सीन है। इसे एक के बजाय दो वायरस से बनाया गया है। इसमें दोनों डोज अलग-अलग होते हैं। जबकि कोवैक्सिन और कोवीशील्ड के दो डोज में अंतर नहीं है।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply