Agriculture News: 53,000 पशुपालकों को मिला पशु किसान क्रेडिट कार्ड, जानिए और कृषि संबंधित खबरें



Agriculture News

सरसों दाना और तेल के भाव में पिछले सप्ताह आई गिरावट के बाद अब तेजी देखने को मिली. विदेशी बाजारों में तेजी के रुख और कोरोना महामारी के बीच वैश्विक स्तर पर हल्के तेलों की मांग बढ़ने से दिल्ली तेल तिलहन बाजार में सोमवार को सभी तेल तिलहनों के भाव में तेजी देखी गई.

सवाना के इस बीज से किसान को हुआ फायदा

उत्तर प्रदेश के महाराजगंज जिले के किसान सूंदर पासवान ने आधुनिक खेती को अपनाते हुए सवाना सीड का गंगोत्री धान इस्तेमाल किया जिससे उन्हें काफी अच्छा मुनाफा प्राप्त हुआ.

PLI स्कीम की गाइडलाइंस जारी

खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों के लिए प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेटिव स्कीम की गाइडलाइन मंत्रालय की वेबसाइट www.mofpi.nic.in पर अपलोड कर दी गई है. कृषि मंत्री तोमर द्वारा स्कीम के लिए ऑनलाइन पोर्टल भी शुरू किया गया है. बता दें फूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री मैन्युफैक्चरर्स के लिए ग्लोबल चैम्पियन बनने का यह सुनहरा अवसर है.

पशु किसान क्रेडिट कार्ड से उठांए लाभ

किसानों की इनकम डबल करने के लिए हरियाणा सरकार ने पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना शुरू की है. जिसके तहत अब तक 53,000 पशुपालकों को कार्ड दे दिए गए हैं और 700 करोड़ रुपये का लोन भी दिया गया है. इस पैसे से वो बेहतर तरीके से पशुपालन कर सकते हैं.

किसानों के पास कमाई का जबरदस्त मौका

देश में औषधीय खेती को बढ़ावा देने और किसानों की सहायता के लिए सरकार द्वारा 140 प्रजातियों की लिस्ट तैयार की गई है. जिसमें खेती की लागत से 75 फीसदी की दर से सब्सिडी देने का प्रावधान है. आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत दिए गए आर्थिक पैकेज से अगले 2 साल में 4 हजार करोड़ की मदद से 10 लाख हेक्टेयर भूमि में औषधीय खेती को कवर किया जाएगा.

बाहरी मंडियों की ठगी से बचेंगे किसान

हिमाचल में सेब बागवानों के लिए आगामी सीजन में चार मंडियों में सेब का कारोबार होगा। शिमला की अणू, मैंदली, खड़ापत्थर और जिला किन्नौर की टापरी मंडियों में सेब बिक्री की सुविधा बागवानों को मिलेगी। इससे किन्नौर, शिमला और आउटर कुल्लू के बागवान घरों के नजदीक सेब बेच पाएंगे। साथ ही बागवान कोरोना संक्रमण के अलावा बाहरी मंडियों में ठगी का शिकार होने से भी बच सकेंगे।

यह फल किसानों को कर रहा मालामाल

किसानों के लिए कमाई का अच्छा जरिया बना है पैशन फ्रूट. जिसे भारत में कृष्णा फल के नाम से जाना जाता है. जिसकी 500 से अधिक किस्में हैं. पैशन फ्रूट पोषक तत्व, खनिज और विटामिन से भरपूर होता है. इसमें पौटैशियम, तांबा, फाइबर सहित कई अन्य विटामिनों की मात्रा होती है. पाचन शक्ति बढ़ाने के साथ इम्युनिटी बढ़ाने, सूजन कम करने और एजिंग को नियंत्रित करने में भी सहायक होता है.

Virtual होगा FSS 2021 का आयोजन

फूड सिस्टम समिट 2021 का वर्चुअल फॉर्मेट में 5 से 7 मई तक united nation द्वारा आयोजन किया जाएगा जिसका मुख्य लक्ष्य विकास की दिशा में महत्वपूर्ण कार्रवाई और औसत दर्जे की प्रगति उत्पन्न करना है.

Source link

Leave a Reply