Agriculture News: अप्रैल माह की कृषि जगत से जुड़ी बड़ी खबरें



Agriculture News

सरकार ने किसानों के लिए किया बड़ा ऐलान

सरकार ने production linked incentive scheme के तहत खाद्य प्रसंस्करण उद्योग के लिए 11,000 करोड़ रुपये की मंजूरी दी है. जिससे 2.5 लाख लोगों को रोजगार मिलने और निर्यात में बढ़ोतरी होने की उम्मीद है.

1 केंद्र सरकार का 10 हजार नए FPO बनाने का लक्ष्य

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा है कि देश में 10 हजार नए कृषक उत्पादक संगठन बनाए जाएगें  जिससे किसानों की आय बढ़ेगी और छोटे किसानों को काफी सुविधाएं भी मिलेगी.

हिमाचल प्रदेश में खोली जाएंगी कोल्ड स्टोरेज मंडियां

हिमाचल प्रदेश कृषि विपणन बोर्ड के अध्यक्ष बलदेव भंडारी ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में कोल्ड स्टोर मंडियां खोली जाएंगी. इस संबंध में अध्यक्ष बलदेव भंडारी ने शिमला में विक्रेता सदस्यों के साथ बैठक की.. जिसमें फूलों को लंबे समय तक ताजा रखने के लिए कोल्ड स्टोर मंडियां खोलने पर चर्चा की.

बाढ़ से लड़ेगी धान की नई किस्म

धान की अनोखी किस्म सह्याद्रि पंचमुखी जो पानी में पूरी तरह डूबने के बाद भी बंपर पैदावार देती है. रिसर्च में ऐसा कहा गया है कि धान सह्याद्रि पर पानी का भी कोई असर नहीं पड़ता और इसका उत्पादन भी 26 फीसदी ज्यादा होता है.

PAU ने विकसित की नई किस्में

पंजाब कृषि विश्वविद्यालय ने सब्जी की कुछ किस्में तैयार की हैं. जिन्हें आसानी से घर या छत पर उगाया जा सकता हैं. इसके अलावा गेहूं की उन्नत किस्म भी विश्वविद्याल में तैयार की गई है. जो प्रोटीन और हाई जिंक जैसे पोषक तत्वों से भरपूर है.

केबोटिक्स और बेयर ने किया Collaboration

हाल ही में केबोटिक्स कंपनी ने बेयर कंपनी के साथ Collaborate किया है, जिसके तहत दोंनो कंपनी innovative crop protection tools को किसानों तक जल्द से जल्द पहुंचाएगी

हिमाचल के किसान उगाएंगे पहाड़ी दालें

हिमाचल प्रदेश में पहाड़ी दालों का उत्पादन बढ़ाने के लिए राज्य सरकार ने केंद्र के पास मंजूरी के लिए 10.34 करोड़ रुपये का प्रोजेक्ट भेजा है. मंजूरी मिलने के बाद पहाड़ी दालों का उत्पादन बढ़ाने के लिए प्रदेश के करीब 12 हजार किसानों को लाभ मिलेगा.

किसानों के लिए वरदान बना ये स्टा्र्टअप

किसानों के लिए फसलें बर्बाद होने की भरपाई करने वाला एक GramCover नाम से स्टार्टअप शुरु किया गया जो किसानों तक औपचारिक रूप से फाइनेंशियल प्रोडक्ट्स उपलब्ध कराएगा इसके जरिए किसानों को फसलों, पशुओं से लेकर लाइफ इंश्योमरेंस तक की सुविधा 35 रुपये के खर्च पर दी जाएगी

किसानों के लिए बनी खास मशीन

राजेन्द्र प्रसाद कृषि केंद्रीय विश्वविद्यालय के प्रोफेसर और वैज्ञानिकों ने गेंहू और धान की खेती करने वाले किसानों के लिए एक खास मशीन तैयार की है जिससे बुवाई करने की लागत में काफी कमी आती है और खेत में पैदावार भी अधिक होता है.

AIF स्कीम के तहत मिलेगा 3 करोड़ का लोन

देश में इंफ्रास्ट्रक्चर विकास को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड स्कीम शुरू की गई है. जिसके अंतर्गत किसानों को सालाना 3 परसेंट की दर पर ब्याज और 3 करोड़ रुपये के लोन पर क्रेडिट गारंटी कवरेज की सुविधा भी दी जा रही है.

हिमाचल में 11 करोड़ से विकसित होंगे मॉडल कृषि फार्म

हिमाचल प्रदेश के विभिन्न जिलों में मॉडल कृषि फार्म विकसित होंगे. केंद्र सरकार के पास करीब 11 करोड़ का प्रोजेक्ट तैयार करके मंजूरी के लिए भेजा गया है, जिससे किसानों को आधुनिक कृषि तकनीक देने के साथ नवीन कृषि की जानकारी प्रदान की जा सकेगी.

पंजाब ने बनाया MSP पर गेहूं खरीद का रिकॉर्ड

देश के 10 राज्यों में 2 सौ 32.48 लाख मिट्रिक टन गेहूं की खरीद हो चुकी है. इसमें सबसे अधिक सरकारी खरीद पंजाब में हुई है. यहां अब तक 90.40 लाख मिट्रिक टन गेहूं की खरीद हो चुकी है. गौरतलब है कि पंजाब ने MSP पर 130 लाख मिट्रिक टन गेहूं खरीदने का लक्ष्य रखा है.

किसानों के लिए काम का है ये मोबाइल ऐप

देश की एजीटेक कंपनी शिवराय टेक्नोलॉजी ने खेती से जुड़ा एक मोबाइल ऐप लांच किया है. जिसका नाम फार्मिजो खाता है. यह एक अकाउंटिंग ऐप है इससे किसानो को पता चल पाएगा कि कितने खेत में कितनी सिंचाई, कितने बीज या खाद की जरूरत होगी. इससे किसानों की लागत घटेगी और फायदा बढ़ेगा.

किसानों के लिए काम की है यह मशीन

भारत में जनसंख्या ज्यादा होने के कारण कम जमीन की समस्या अधिक है. इस दिशा में एक उम्मीद की किरण बन कर आई है फ्रिज जैसी दिखने वाली छोटी सी मशीन. इस मशीन के जरिए किसान छोटे स्थान पर अधिक उपज उगा सकेंगे. साथ ही यह मशीन एक दिन में 25 से 30 किलो चारा भी उत्पादित करती है.

भारतीय वैज्ञानिकों ने विकसित की MACS 1407 किस्म

भारतीय वैज्ञानिकों ने सोयाबीन की अधिक उपज देने वाली और कीट प्रतिरोधी की एक किस्म विकसित की है. MACS 1407 नाम की यह नई किस्म असम, पश्चिम बंगाल, झारखंड, छत्तीसगढ़ और पूर्वोत्तर के राज्यों में खेती के लिए उपयुक्त है. इसके बीज किसानों को साल 2022 में उपलब्ध कराए जाएंगे.

सरकार ने खाद्य अनाज उत्पादन का लक्ष्य किया निर्धारित

सरकार ने crop year 2021 और 2022 के लिए कुल खाद्यान्न उत्पादन का लक्ष्य 307.31 मिलियन टन रिकॉर्ड दर्ज किया है, जिसमें खरीफ सीजन में 151.43 मीट्रिक टन और रबी सीजन में 155.88 मीट्रिक टन अनाज का उत्पादन शामिल है.

60 सेकेंड में खत्म होगा Coronavirus!

उत्तर प्रदेश निवासी अमेरिकी वैज्ञानिक ने एक हर्बल माउथ सैनिटाइजर तैयार किया है. जिससे 60 सेकेंड तक गरारा करने पर कोरोना वायरस मुंह में ही नष्ट हो जाएगा. यह पूरी तरह से प्राकृतिक है. इसमें किसी प्रकार का कोई कैमिकल नहीं मिलाया गया है.

पीएम मोदी की बड़ी बैठक

शुक्रवार को वीडियो कांफ्रेंस के जरिए प्रधानमंत्री मोदी ने बैठक की जिसमें निर्देश दिए गए कि केंद्र को राज्यों के साथ समन्वय से काम करना चाहिए ताकि बिना किसी समस्या के गरीबों को मुफ्त अनाज का लाभ सुनिश्चित किया जा सके.

पशुओं के लिए देशभर में खुलने जा रहा ट्रामा सेंटर

अब पालतू जानवारों के लिए सरकार ट्रॉमा सेंटर खोलने की तैयारी में है. बिहार, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, गुजरात, मध्य प्रदेश और दिल्ली के हर जिलों में खुलने वाले इस ट्रामा सेंटर में मवेशियों के लिए कई तरह की सुविधाएं होंगी. जैसे – मवेशियों के साथ रहने के लिए अलग से वार्ड और इमरजेंसी सेवा के लिए एम्बुलेटरी वाहन की भी व्यवस्था की जाएगी.

सब्जियों की फसल पर मिलेगी सरकारी मदद

सब्जियों की खेती को बढ़ावा देने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार किसानों को आर्थिक मदद देगी. लेकिन इसके लिए बुआई से पहले रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. उत्तर प्रदेश बागवानी विभाग के निदेशक डॉ. आरके तोमर ने बताया कि टमाटर, शिमला मिर्च, लौकी और तोरई की फसलों पर किसानों को 20,000 रुपये प्रति हेक्टेयर की मदद दी जाएगी.

कोरोना के कारण किस्त आने में हो रही देरी

इस वित्त वर्ष में पीएम किसान योजना की पहली किस्त अभी तक नहीं आई. गौरतलब है कि हर साल प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की पहली किस्त 20 अप्रैल तक आ जाती है. लेकिन इस बार पहली किस्त 31 जुलाई तक कभी भी आ सकती है

मजदूर-किसान एकता दिवसमना रहे आंदोलनरत किसान

1 मई यानी कि मजदूर दिवस को आंदोलनरत किसान ‘मजदूर-किसान एकता दिवस’ के रूप में मना रहे हैं. इस पर किसान नेताओं ने कहा कि हम मजदूरों-किसानों और आम नागरिकों से अपील करते हैं कि कोविड और लॉकडाउन के जरूरी नियमों का पालन करते हुए इस दिवस को मनाएं.

Curfew ने बढ़ाई Poultry Industry की मुसीबत

देश के राज्यों में लगे lockdown और strict curfew के कारण 14 महीनों में तीसरी बार लगातार poultry industry मुसीबत में हैं दरअसल लोग weekend पर ही noneveg खाना पंसद करते हैं ऐसे में sunday के दिन ही curfew लगने के कारण poultry industry को अर्थिक नुकसान हो रहा है

AFBFS पर आयोजित होगी International Conference

Agriculture, forestry, Biotechnology and Food Science पर 2 May को Bengaluru में Science Globe द्वारा International Conference का आयोजन किया जाएगा यह दुनिया भर के शिक्षाविदों, शोधकर्ताओं, इंजीनियरों, औद्योगिक प्रतिभागियों और छात्रों के लिए एक उत्कृष्ट मंच है जहां वे वैश्विक विशेषज्ञों के साथ अपने शोध निष्कर्षों को साझा कर सकेंगे.

Source link

Leave a Reply