AIF Schem: किसानों को मिलेगा 3 करोड़ तक का लोन 3% ब्याज पर, जानिए कैसे?


Agriculture News

Agriculture News

किसान बड़ी मेहनत से अपनों खेतों में फसल उगाते हैं, लेकिन कई बार किसान फसल की कटाई के बाद उसका भंडारण सही तरीके से नहीं कर पाते हैं, जिसकी वजह से फसल की उपज को भारी नुकसान होता है.

किसानों की इसी समस्या का समाधान करने के लिए सरकार की तरफ से एक नई योजना की शुरुआत की गई है. इस योजना का नाम एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड (Agriculture Infrastructure Fund / AIF) है. इस योजना के जरिए देश में फसलों की कटाई के बाद उसका भंडारण सही तरीके से हो पाएगा. सरकार का प्रयास यह है कि किसानों की उपज को किसी तरह का नुकसान न हो, बस इसके लिए एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर (Agriculture Infrastructure) के विकास को बढ़ावा दिया जा रहा है.

क्या है एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड योजना (What is Agriculture Infrastructure Fund Scheme)

इस योजना के तहत किसानों को बैंक और वित्तीय संस्थान 1 लाख करोड़ रुपए तक का लोन देंगे. इसके साथ ही किसानों को सालाना 3 प्रतिशत की दर पर ब्याज दिया जाएगा. इसके अलावा क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट के तहत 3 करोड़ रुपए के लोन पर क्रेडिट गारंटी कवरेजी की सुविधा मिलेगी.

कृषि मंत्रालय की तरफ से बताया गया है कि अब तक एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड (Agriculture Infrastructure Fund / AIF) ने लगभग 8 हजार करोड़ रुपए का मार्क छू लिया है, तो वहीं अब तक सरकार को 8,216 करोड़ रुपए के लोन के लिए 8,665 आवेदन मिल चुके हैं. इसमें से 4 हजार करोड़ रुपए जारी भी कर दिए गए हैं.

किस राज्य से सबसे ज्यादा आवेदन (Which state has the most applications)

इस योजना का लाभ उठाने के लिए सबसे ज्यादा आवेदन प्राइमरी एग्रीकल्चर क्रेडिट सोसाइटी की तरफ से मिले हैं. इसके बाद कृषि उद्यमी और किसानों का स्थान है. जिन राज्यों से सबसे ज्यादा आवेदन मिले हैं, उनमें आंध्र प्रदेश का नाम सबसे ऊपर है. आंध्र प्रदेश से 2,125, मध्य प्रदेश से 1,830, उत्तर प्रदेश से 1,255, कर्नाटक से 1,071 और राजस्थान से 613 आवेदन मिले हैं. बता दें कि इस योजना के तहत मिलने वाले लोन का उपयोग इंफ्रास्ट्रक्चर से जुड़े प्रोजेक्ट में होगा. इस राशि से कृषि से जुड़े इंफ्रास्ट्रक्चर का विकास किया जाएगा.

इस पोर्टल के जरिए करें आवेदन

इसके लिए सरकार ने एक पोर्टल https://agriinfra.dac.gov.in बनाया है. इसके जरिए  किसान और इंफ्रा प्रोजेक्ट से जुड़ने वाले लोग अपना आवेदन दे सकते हैं. इसके अलावा अधिक जानकारी के लिए भी पोर्टल पर जाकर विजिट कर सकते हैं.

Source link

Leave a Reply