24 घंटे में आए कोरोना के लाखों मामले, मृतकों की भी बढ़ी संख्या

शब्दों की कम, बल्कि मौजूदा हालातों को बयां करने के लिए दर्द की ज्यादा दरकार है. बेशक, असल सूरमा वही होते हैं, जो विपरीत परिस्थितियों में भी दृढ़ता से खड़े रहने का साहस रखते हैं, मगर मौजूदा हालात यकीनन खौफज़दा करने वाले हैं. कभी कल तक लोगों की आमद से गुलजार रहने वाली गलियां आज वीरान हो चुकी हैं. कभी जिनसे मुलाकात करने की इल्तिजा दिल से निकलती थी, आज उनसे दूरियां बन चुकी है. वजह है, कोरोना का कहर, जो कि लगातार बढ़ता जा रहा है.

Source link

Leave a Reply