काउंटिंग के लिए गाइडलाइंस: काउंटिंग हॉल में वही कैंडिडेट जा सकेंगे जिन्हें वैक्सीन के दोनों डोज लगे, कोविड की निगेटिव रिपोर्ट जरूरी

  • Hindi News
  • National
  • Assembly Election Result 2021 Counting Guidelines; West Bengal Assam Kerala Tamil Nadu Puducherry

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली18 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
बंगाल चुनाव के दौरान कई हिंसक झड़पें हुईं। काउंटिंग के दौरान भी अर्द्धसैनिक बल तैनात रहेंगे। (फाइल) - Dainik Bhaskar

बंगाल चुनाव के दौरान कई हिंसक झड़पें हुईं। काउंटिंग के दौरान भी अर्द्धसैनिक बल तैनात रहेंगे। (फाइल)

पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के नतीजे 2 मई को आएंगे। इसके पहले चुनाव आयोग ने काउंटिंग हॉल में प्रवेश के इच्छुक उम्मीदवारों के लिए दो शर्तें तय की हैं। इनमें से किसी एक का पूरा होना जरूरी है। पहली- कैंडिडेट वैक्सीन के दोनों डोज लगवा चुका हो। दूसरी- कोविड-19 की रिपोर्ट निगेटिव हो। इलेक्शन कमीशन ने बुधवार को काउंटिंग के लिए नई गाइडलाइंस जारी कीं।

काउंटिंग सेंटर्स पर भीड़ रोकने की कोशिश
गाइडलाइन के मुताबिक, काउंटिंग सेंटर्स पर भीड़ नहीं जुटाई जा सकेगी। हालांकि, कैंडिडेट्स का काउंटिंग एजेंट अगर संक्रमित हो जाता है तो वो उसकी जगह दूसरा एजेंट नियुक्त कर सकेंगे।
2 मई को असम, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, केरल और पुड्डुचेरी के विधानसभा चुनावों के नतीजे आएंगे। इसके अलावा कई राज्यों में विधानसभा और लोकसभा उपचुनाव के नतीजे भी इसी दिन आएंगे। वोटों की गिनती सुबह 8 बजे शुरू होगी।

48 घंटे से ज्यादा पुरानी नहीं होनी चाहिए टेस्ट रिपोर्ट
गाइडलाइन में कहा गया है- कोई भी कैंडिडेट या एजेंट जो काउंटिंग हॉल में जाना चाहता है, उसे अपनी कोविड-19 निगेटिव रिपोर्ट (RT-PCR) दिखानी होगी। यह 48 घंटे से ज्यादा पुरानी नहीं होनी चाहिए। वैक्सीन के दोनों डोज लेने का प्रमाण भी दिखाया जा सकता है। इलेक्शन ऑफिसर कैंडिडेट्स या उनके एजेंट्स का कोविड-19 टेस्ट कराने के लिए जिम्मेदार होंगे।

इसी हफ्ते मद्रास हाईकोर्ट ने इलेक्शन कमीशन के तौर-तरीकों को लेकर गंभीर सवाल उठाए थे। चुनाव आयोग 30 अप्रैल को हाईकोर्ट के सामने उन कदमों की जानकारी देगा जो उसने कोविड-सेफ काउंटिंग के लिए उठाए हैं।

जीत के बाद जश्न के जुसूस नहीं निकाल सकेंगे
चुनाव आयोग ने मंगलवार को साफ कर दिया था कि नतीजों के बाद जीत के जुलूस नहीं निकाले जा सकेंगे, क्योंकि इनमें काफी भीड़ होती है और इससे संक्रमण बढ़ने का खतरा है। जीत का प्रमाणपत्र लेने भी दो ही लोग जा सकेंगे। काउंटिंग एजेंट्स और कैंडिडेट्स के लिए PPE किट्स भी सेंटर्स पर उपलब्ध रहेंगी। दो एजेंट्स में एक का PPE किट में होना आवश्यक होगा।

काउंटिंग सेंटर्स पर सोशल डिस्टैंसिंग रखनी होगी। वहां वेंटिलेशन रखना भी जरूरी होगी। काउंटिंग हॉल में टेबल और सिटिंग अरेंजमेंट कोविड गाइडलाइंस के हिसाब से किया जाएगा। स्टाफ को फेस मास्क, सैनिटाइजर, ग्लब्स और सैनिटाइजर मुहैया कराए जाएंगे।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply