दिल्ली की जीत का एनालिसिस: पावर-प्ले में धवन-शॉ की तेज पारियों ने जीत की नींव रखी, खराब फील्डिंग और सुपर ओवर में बेयरस्टो को न भेजना हैदराबाद को पड़ा भारी

  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Ipl
  • KKR Vs SRH IPL 2021 Post Match Analysis; Rishabh Pant Shikhar Dhawan Prithvi Shaw David Warner Johnny Bestrow Kane Williamson Delhi Capitals Vs Sunrisers Hyderabad Match Analysis

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चेन्नई5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में रविवार को दिल्ली कैपिटल्स ने सनराइजर्स हैदराबाद को सुपर ओवर में हरा दिया। मुकाबले में दिल्ली की जीत की नींव रखी सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ और शिखर धवन ने। दोनों ताबड़तोड़ शुरुआत करते हुए पहले विकेट के लिए 81 रन जोड़े। दिल्ली को हैदराबाद की खराब फील्डिंग का फायदा हुआ, जिससे टीम उसे 160 रन का टारगेट देने में कामयाब हो सकी। सुपर ओवर में जॉनी बेयरस्टो को न भेजना भी हैदराबाद की हार की बड़ी वजह रही। आइए जानते हैं वो 5 पॉइंट, जिसकी वजह से दिल्ली की टीम इस मुकाबले को जीतने में कामयाब हो सकी।

1. वॉर्नर का शॉर्ट रन हैदराबाद को भारी पड़ा
इस सीजन में पहली बार मैच का फैसला सुपर ओवर सु हुआ। इसमें पहले बल्लेबाजी के लिए उतरी हैदराबाद टीम के लिए कप्तान डेविड वॉर्नर और केन विलियम्सन खेलने आए। ओवर की आखिरी बॉल पर दोनों ने 2 रन दौड़े, लेकिन वॉर्नर अपना पहला रन पूरा नहीं कर सके थे और दूसरे के लिए दौड़ पड़े थे। ऐसे में अंपायर ने इसे शॉर्ट रन करार दिया और टीम के खाते में 1 ही रन जोड़ा।

यह टीम को भारी पड़ा, क्योंकि दिल्ली की टीम ने भी आखिरी बॉल पर 1 रन बनाकर मैच जीता। यदि वॉर्नर का रन शॉर्ट नहीं होता और दिल्ली को आखिरी बॉल पर 2 रन चाहिए होते तो सुपर ओवर भी टाई हो सकता था। ऐसे में मैच फिर किसी भी टीम के पाले में जा सकता था।

2. विलियम्सन का किसी बल्लेबाज ने साथ नहीं दिया
160 रन के टारगेट का पीछा करने उतरी हैदराबाद टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। टीम ने 28 के स्कोर पर ही पहला विकेट गंवा दिया। कप्तान डेविड वॉर्नर 6 रन बनाकर रनआउट हो गए। हालांकि, दूसरे ओपनर जॉनी बेयरस्टो भी ज्यादा देर नहीं टिक सके। टीम को 56 के स्कोर पर दूसरा झटका लगा। बेयरस्टो 18 बॉल पर 38 रन बनाकर आवेश खान की बॉल पर कैच आउट हुए। एक छोर से लगातार विकेट गिरते रहे, लेकिन दूसरे छोर पर केन विलियम्सन टिके रहे और नाबाद 66 रन बनाकर मैच को सुपर ओवर तक ले गए।

3. धवन और स्मिथ को जीवनदान से दिल्ली को फायदा
हैदराबाद को खराब फील्डिंग का खामियाजा भी भुगतना पड़ा। 17वें ओवर की पहली बॉल पर स्टीव स्मिथ को जीवनदान मिला। थर्डमैन पर खड़े सिद्धार्थ कौल ने उनका आसान कैच छोड़ा। ओवर विजय शंकर का था और स्मिथ 14 रन पर खेल रहे थे। इससे पहले तीसरे ओवर की दूसरी बॉल पर शिखर धवन का आसान कैच छूटा था। यह जीवनदान कवर पर खड़े केदार जाधव ने दिया। ओवर सिद्धार्थ कौल का था। इस समय धवन 5 रन बनाकर खेल रहे थे।

4. शॉ, पंत और स्मिथ की पारियां भी अहम रहीं
दिल्ली के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और पृथ्वी शॉ ने टीम को शानदार शुरुआत दिलाई। पावर-प्ले में इनकी तेज पारियों की बदौलत ही दिल्ली 159 रन के स्कोर तक पहुंच पाई। शॉ ने IPL में अपनी 8वीं फिफ्टी लगाई। उन्होंने 39 बॉल पर 53 और कप्तान ऋषभ पंत ने 27 बॉल पर 37 रन की पारी खेली। स्टीव स्मिथ ने नाबाद 34 रन की पारी खेली। आखिरी 5 ओवर में दिल्ली की टीम ने 2 विकेट गंवाकर 43 रन जोड़े।

5. अक्षर पटेल रहे X-फैक्टर
कोरोना की जंग जीतकर टीम में वापसी कर रहे अक्षर पटेल टीम के लिए X-फैक्टर साबित हुए। उन्होंने पहले अपने 4 ओवर के स्पेल में 26 रन देकर 2 विकेट झटके। इनमें अभिषेक शर्मा और राशिद खान के विकेट शामिल हैं। इसके बाद सुपर ओवर में गेंदबाजी करते हुए उन्होंने हैदराबाद को सिर्फ 7 रन पर ही रोक दिया।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply