छत्तीसगढ़: रायपुर में 9 से 19 अप्रैल तक टोटल लॉकडाउन, राज्य में हर दिन मिल रहे 6 हजार केस, जानें किसे मिलेगी राहत

डिजिटल डेस्क, रायपुर। छत्तीसगढ़ में एक दिन में रिकॉर्ड 2821 मामले सामने आने के बाद सरकार ने राजधानी रायपुर में 10 दिन का लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया है। इसके तहत 9 अप्रैल की शाम 6 बजे से 19 अप्रैल तक सब बंद रहेगा। कोरोना की दूसरी लहर में रायपुर देश के किसी राज्य की पहली राजधानी है जहां इतना लंबा लॉकडाउन लगाना पड़ा। 

पिछले 24 घंटे में रायपुर में इस खतरनाक वायरस से 26 लोगों की जान चली गई। राजधानी में पहली मौत 29 मई को हुई थी। कलेक्टर एस भारती दासन ने प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि इस दौरान जिले की सभी सीमाएं सील रहेंगी। उन्होंने बताया कि दूध वितरण के लिए समय निर्धारित किया गया है। शराब दुकानें, पर्यटन स्थल, शासकीय एवं निजी कार्यालय बंद रहेंगी। सरकार से अनुमति प्राप्त परीक्षाओं को छोड़कर बाकी अन्य परीक्षाए स्थगित रहेंगी।

राज्य में हर दिन औसतन 6 हजार से अधिक नए केस मिल रहे
छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण की रफ्तार अब तक के सबसे भयावह दौर में पहुंच गई है। राज्य में अप्रैल के पहले 6 दिनों में 37 हजार मरीज मिल चुके हैं। औसतन 6 हजार से अधिक नए पॉजिटिव रोज मिल रहे हैं। 

प्रदेश में कोरोना से रोजाना 14 लोगों की जान जा रही
मंगलवार को राज्य में रिकॉर्ड 9,921 केस मिले और 53 मौतें हुई हैं। राजधानी में 1,001 व प्रदेश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 4,400 पार कर गई। प्रदेश में रोजाना 14 से ज्यादा मरीजों की जान कोरोना से गई है। पिछले एक साल में 3 लाख 86 हजार 269 लोगों को कोरोना ने अपनी चपेट में लिया। अब तक 3 लाख 29 हजार 408 लोग ठीक हो चुके हैं।

लॉकडाउन के दौरान इन नियमों का करना होगा पालन

  • रायपुर में प्रवेश करने वाले यात्री को ई-पास के माध्यम से प्रवेश मिलेगा
  • कोरोना टीकाकरण के लिए व्यक्तियों को छूट दी जाएगी
  • सभी धार्मिक संस्थाएं बंद रहेंगी
  • शहर की सभी शराब की दुकानें बंद रहेंगी 
  • आपातकाल में चार पहिया वाहन, ऑटो में ड्राइवर सहित अधिकतम तीन लोगों को अनुमति मिलेगी
  • मीडिया कर्मी  घर से ही काम करेंगे। अतिरिक्त गंभीर स्थिति में आफिस आने पर आईडी कार्ड दिखाना अनिवार्य होगा
  • केवल दूध, पेट्रोल पंप और मेडिकल सेवाएं ही होंगी संचालित
  • बेवजह वाहनों को दुरुपयोग किया गया, तो 15 दिन के लिए वाहन होंगे जब्त
  • रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट के लिए टैक्सी सेवाए चालू रहेगी

दूध वितरण और समाचार पत्रों के वितरण का समय जान लें
दूध वितरण और समाचार पत्रों के वितरण की सुबह 6 से 8 बजे और शाम 5 बजे से शाम 6:30 तक अनुमति होगी। दूध वितरण के लिए दुकान नहीं खोली जाएंगी। दुकान के सामने सामाजिक दूरी का ध्यान रखते हुए दूध वितरण किया जाएगा।

रायपुर में रजिस्ट्री दफ्तर सील
जिला प्रशासन की तरफ से कहा गया है कि रजिस्ट्री ऑफिस में कोरोना से 7 कर्मचारी संक्रमित पाए गए हैं। एहतियात के तौर पर इनके संपर्क में आए 30 अधिकारियों, कर्मचारियों और ऑपरेटरों का RT-PCR टेस्ट करवाया गया है। इन 30 लोगों की रिपोर्ट अब तक नहीं आई है। ऐसे में 48 घंटों के लिए इस दफ्तर को सील कर दिया गया है। रायपुर के महिला थाने में भी कुछ कर्मचारी संक्रमित हुए हैं।

विधानसभा सचिवालय भी बंद
विधानसभा के 7 अधिकारियों-कर्मचारियों के संक्रमित होने के बाद सचिवालय को बंद कर दिया गया है। 11 अप्रैल तक विधानसभा सचिवालय पूरी तरह बंद रहेगा। इस दौरान अधिकांश अधिकारी कर्मचारी होम क्वारैंटाइन हैं।

55 से अधिक उम्र वालों को होम आइसोलेशन की अनुमति नहीं
रायपुर जिला प्रशासन ने 55 वर्ष से अधिक के कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों को होम आइसोलेशन की अनुमति नहीं देने का फैसला किया है। कलेक्टर ने साफ कर दिया है कि इस आयु वर्ग के लोगों को एम्बुलेंस से अस्पताल पहुंचाया जाएगा।

Source link

Leave a Reply