महामारी के बीच बढ़ी कंटेंट डिजिटल कंटेंट की मांग: स्क्रिप्ट राइटर्स के बाद दोगुना हुआ काम, लेकिन पेमेंट हो रहा डिले

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

39 मिनट पहलेलेखक: मनीषा भल्ला

  • कॉपी लिंक

कोरोनाकाल में फिल्मों की शूटिंग और रिलीज भले टलती जा रही हो। लेकिन स्क्रिप्ट राइटर्स के पास काम तेजी से बढ़ा है। कई राइटर्स के पास काम दोगुना हो गया है। ‘हामिद’ और ‘पीपा’ जैसी फिल्म के राइटर रविंदर रंधावा ने हाल ही में अमेजन के लिए शो लिखा। उन्होंने बताया, ‘काम होना और पैसे मिलना दोनों अलग हैं। पेमेंट डिले हो रहा है, लेकिन काम बहुत है।’ ‘गुल्लक-2’ के स्क्रिप्ट राइटर दुर्गेश सिंह बताते हैं कि कोरोना के बाद काम दोगुना हो गया। वे खुद रेड चिलीज के लिए शो लिख रहे हैं। दुर्गेश ‘पंचायत’ का सीजन टू भी लिख रहे हैं।

‘राइटर एक साल में 20 लाख तक का काम कर रहा है’

रविंदर रंधावा कहते हैं कि मिड राइटर एक साल में 20 लाख तक का काम कर रहा है। लोग मल्टीपल प्रोजेक्ट कर रहे हैं, ताकि पेमेंट का साइिकल बना रहे। इस बीच, खबर है कि दृश्यम प्रोडक्शन हाउस ओटीटी प्लेटफॉर्म लॉन्च कर रहा है। इसके तीन बड़े प्रॉजेक्ट्स पर काम हो रहा है।

दोगुनी हो जाएगी ओटीटी पर ओरिजनल कंटेंट की डिमांड

हाल ही में फिक्की की मीडिया एवं एंटरटेनमेंट पर आई रिपोर्ट के मुताबिक 2023 में ओटीटी पर ऑरिजनल कंटेंट डिमांड डबल हो जाएगी। 2020 में नेटफ्लिक्स पर नॉन फिक्शन कंटेंट में 250, डॉक्यूमेंट्री में 100 फीसदी, फिक्शन में 370 और किड्स टाइटल में 100 फीसदी से ज्यादा का ग्रोथ दिखा है। 2020 में तो भारत नेटफ्लिक्स पर सबसे ज्यादा फिल्में देखने वाला देश बन गया। रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत अमेजन प्राइम के लिए भी सबसे ज्यादा तेजी से बढ़ रहे मार्केट के रूप में उभर रहा है। इसे 4,300 शहरों और कस्बों में देखा जा रहा है।

फिल्में रिलीज हों, ताकि फंसा हुआ पैसा मिल सके

‘आश्रम’ वेबसीरीज के लेखक संजय मासूम कहते हैं कि फिल्म और वेबसीरीज लिखने का काम पहले की तरह चल रहा है। वह ‘रक्तांचल’ का सेकंड सीजन लिख रहे हैं और उन्हें एक फिल्म भी ऑफर हुई है। लेखक, डायरेक्टर और एक्टर स्वानंद किरकिरे कहते हैं, ‘ओटीटी की वजह से लेखकों को काम मिल रहा है, लेकिन हम चाहते हैं फिल्में रिलीज हों। ताकि फंसा हुआ पैसा मिल सके। ओटीटी पर फिल्में देखने की आदत न लग जाए।’

ओटीटी पर रिलीज हो सकती हैं बड़ी फिल्में

कोरोना की दूसरी लहर की आशंका के साथ ही फिर सिनेमाघरों पर गाज गिरी है। मार्च के आखिर और अप्रैल का शुरू सिनेमाघरों के बिजनेस के लिए बेहतरीन माना जाता है लेकिन कोरोना ने उन्हें पुरानी स्थिति में ला दिया है। इसके चलते एक बार फिर ओवर द टॉप (ओटीटी) पर फिल्में रिलीज होने के कयास तेज हो गए हैं। फिल्म ‘सूर्यवंशी’ के मेकर्स और नेटफ्लिक्स के बीच फिल्म ओटीटी पर रिलीज करने को लेकर बातचीत जारी है। ‘सूर्यवंशी’ की रिलीज डेट 30 अप्रैल थी। साथ ही ‘हाथी मेरा साथी’ और अमिताभ बच्चन की फिल्म ‘चेहरे’ की रिलीज भी आगे खिसका दी गई है।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply