महाराष्ट्र में कोरोना LIVE: महाराष्ट्र में एक दिन में रिकॉर्ड 43,183 नए मरीज मिले; ब्राजील, भारत, अमेरिका, फ्रांस के बाद महाराष्ट्र का नंबर

  • Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • Mumbai Pune Corona Cases 2 April | Maharashtra Coronavirus District Wise Updates; Mumbai Thane Pune Nashik Solapur Aurangabad Nagpur Latest News

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई22 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

महाराष्ट्र में कोरोनावायरस का अब तक का सबसे बड़ा विस्फोट हुआ है। गुरुवार को यहां 43,183 नए संक्रमित मिले। यह किसी भी राज्य में एक दिन में आया कोरोना का सबसे बड़ा आंकड़ा है। हालात का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि एक दिन में इससे ज्यादा केस दुनिया के सिर्फ पांच देशों में ही हैं। पहले नंबर पर ब्राजील, दूसरे नंबर पर खुद भारत, तीसरे नंबर पर अमेरिका और चौथे नंबर पर फ्रांस है। इसके बाद सबसे ज्यादा केस अकेले महाराष्ट्र में हैं।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को आपात बैठक बुलाई है। इसमें हालात पर कोई बड़ा फैसला लिए जाने की उम्मीद है। उधर, उपमुख्यमंत्री अजित पवार पुणे में बैठक करके वहां लॉकडाउन का फैसला कर सकते हैं।

गुरुवार को नए केस के मामले में टॉप 4 देश

देश नए केस
ब्राजील 89,459
भारत 81,183
अमेरिका 76,786
फ्रांस 50,659

महाराष्ट्र में फरवरी की तुलना में 475% ज्यादा मरीज मिले
मुंबई में गुरुवार को सबसे ज्यादा केस 8,646 मरीज मिले। इसके बाद 8,025 जबकि ठाणे में 4,795 केस मिले। मार्च में मुंबई में कोरोना के 88,710 नए मामले सामने आए, जो फरवरी के मुकाबले 475% ज्यादा हैं। इस दौरान 216 लोगों की जान गई जो फरवरी के मुकाबले 181% ज्यादा है। मार्च में राज्य में 6.6 लाख से ज्यादा केस आए जो फरवरी के मुकाबले 400% ज्यादा हैं।

महाराष्ट्र में 7 दिन के केस

तारीख पॉजिटिव केस
26 मार्च 36,902
27 मार्च 35,726
28 मार्च 40,414
29 मार्च 31,643
30 मार्च 27,918
31 मार्च 39,544
1 अप्रैल 43,183

BMC ने नई गाइडलाइन जारी की

  • बहुत हल्के या बिना किसी लक्षण वाले वे लोग, जिन्हें कोई दूसरी बीमारी नहीं है, होम आइसोलेशन में रहते हुए इलाज करवा सकते हैं। उन्हें डॉक्टर की इजाजत लेनी होगी। होम आइसोलेशन के लिए घर में रहने की पूरी व्यवस्था होनी चाहिए। परिवार के सदस्यों के लिए भी क्वारैंटाइन की जगह होनी चाहिए।
  • HIV, हार्ट या कैंसर के मरीज होम आइसोलेशन में रह सकते हैं। 60 साल से ऊपर के बुजुर्गों और डायबिटीज, हाइपर टेंशन, हार्ट, कैंसर, किडनी और फेफड़ों से संबंधित बीमारी से ग्रस्त लोगों को डॉक्टर की सलाह पर होम आइसोलेशन में रखने की मंजूरी होगी।
  • जिस गर्भवती महिला की डिलिवरी में दो सप्ताह हैं, उसे होम आइसोलेशन की अनुमति नहीं होगी

महाराष्ट्र के किन शहरों में लॉकडाउन

मुंबई: ऐसी सोसाइटी जहां पांच से ज्यादा केस हैं वह सील की जा रही है।

बीड: 26 से 4 मार्च तक का लॉकडाउन।

नांदेड: 25 से 4 अप्रैल तक का लॉकडाउन।

नंदुरबार: 31 मार्च से 15 अप्रैल तक का लॉकडाउन।

मुंबई में आज से कड़े प्रतिबंध की संभावना
कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच आज से मुंबई में कड़े प्रतिबंध लग सकते हैं। मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहा है कि दुकानों को एक दिन बंद और एक दिन खोले जाने को लेकर फैसला लिया जा सकता है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि शादियों में मेहमानों की संख्या 50 तक सीमित की जा सकती है। वहीं, अंतिम संस्कार में शामिल होने वालों की संख्या भी 20 तक सीमित की जा सकती है। मेयर पेडनेकर ने इस बात के संकेत भी दिए हैं कि पहले की तरह ट्रेनों को भी सिर्फ जरूरी सेवाओं से जुड़े स्टाफ के लिए ही खोला जा सकता है।

यह तस्वीर मुंबई की दादर सब्जी मंडी की है। शुक्रवार को यहां जुटी भीड़ देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि यहां अभी भी किस तरह कोरोना गाइडलाइन को नजरअंदाज किया जा रहा है।

यह तस्वीर मुंबई की दादर सब्जी मंडी की है। शुक्रवार को यहां जुटी भीड़ देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि यहां अभी भी किस तरह कोरोना गाइडलाइन को नजरअंदाज किया जा रहा है।

CM मुंबई में और डिप्टी CM पुणे में कर रहे बैठक
कोरोना के इन डराने वाले आंकड़ों के बीच महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शाम पांच बजे ‘वर्षा’ बंगले पर आपात बैठक बुलाई है। इस बैठक में कोरोना के मौजूदा हालात की समीक्षा की जाएगी। कोरोना की रोकथाम के लिए कड़ी पाबंंदियां लगाने पर फैसला भी लिया जा सकता हैं। वहीं, डिप्टी CM अजित पवार पुणे में पिंपरी चिंचवाड़ और पुणे के निगम अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे हैं। माना जा रहा है कि इन बैठकों के बाद प्रदेश में पूर्ण लॉकडाउन को लेकर कोई निर्णय हो सकता है।

पुणे में कोरोना मृतकों की बॉडी अब परिवार को संभालनी होगी
पुणे नगर निगम ने नया नियम जारी किया है। इसमें कहा गया है कि किसी कोरोना पॉजिटिव की घर पर मौत होगी तो उसके परिवार वालों को ही शव वाहन तक पहुंचाना होगा। वार्ड अधिकारी की ओर से मृतक के परिवार को एक बॉडी बैग और चार PPE किट दी जाएंगी। उन्हें किट पहनकर शव को बॉडी बैग में डालना होगा और फिर शव ढोने वाली गाड़ी में रखना होगा।

राज्य में 3.66 लाख एक्टिव केस
यहां गुरुवार को 43,183 नए मरीज मिले। 32,641 मरीज ठीक हुए और 249 की मौत हो गई। राज्य में अब तक 28.56 लाख लोग इस महामारी की चपेट में आ चुके हैं। इनमें से 24.33 लाख लोग ठीक हुए हैं, जबकि 54,898 की मौत हुई है। यहां फिलहाल 3.66 लाख लोगों का इलाज चल रहा है।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply