वॉक इतनी है जरूरी: हफ्ते में 5 दिन की वॉक याद्दाश्त को घटने से बचाती है, ब्रेन पर बढ़ती उम्र के असर को रोकती है

  • Hindi News
  • Happylife
  • Memory Loss (Short And Long Term); How To Improve? And Benefits Of Walking, Memory Loss Ko Kaise Theek Karen

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

एक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

मेमोरी लॉस रोकना है तो हफ्ते में 5 दिन वॉक करें। रोजाना पैदल चलने से शरीर में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है और दिमाग पर बढ़ती उम्र का असर रोका जा सकता है। यह दावा टेक्सास यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने अपनी रिसर्च में किया है।

ऐसे काम करती है वॉक
अमेरिकी लोगों पर एक साल तक हुई रिसर्च में सामने आया कि ब्रिस्क वॉक से मेमोरी पर बुरा असर पड़ने से रोका जा सकता है। शोधकर्ताओं का कहना है, वॉक करने से इंसान के दिमाग में ब्लड का सर्कुलेशन बढ़ता है। इस कारण ब्रेन की कोशिकाओं में ऑक्सीजन और पोषक तत्व पहुंचते हैं। नतीजा, दिमाग स्वस्थ रहता है।

वॉक जरूरी क्योंकि मेमोरी घटने का इलाज नहीं
शोधकर्ताओं का कहना है, वॉक इसलिए भी जरूरी है, क्योंकि डिमेंशिया के कारण होने वाले मेमोरी लॉस का अब तक कोई इलाज नहीं ढूंढा जा सका है। रोजाना की वॉक मेमोरी को घटने से रोकने के साथ उसे और बेहतर बनाने का काम करती है। अमेरिका में 65 साल या इससे अधिक उम्र के 20 से 25 फीसदी लोग घटती मेमोरी से जूझते हैं।

मेमोरी आखिर घटती क्यों है, ये भी जानिए
टेक्सास यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों का कहना है, जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती है, हमारा मस्तिष्क सिकुड़ता है। लेकिन, हम लोग अब तक यह पता नहीं लगा पाए हैं कि ऐसा होता क्यों है। इसकी वजह न्यूरॉन के इलेक्ट्रिक सिग्नल भेजने की घटती क्षमता हो सकती है।

कुछ भी नया सीखने और याद्दाश्त के लिए मस्तिष्क का जो हिस्सा जिम्मेदार होता है, उसे हिप्पोकैम्पस कहते हैं। जैसे-जैसे इंसान बूढ़ा होता है, इसका आकार छोटा होता है।

शोधकर्ताओं के मुताबिक, युवा एरोबिक एक्सरसाइज करते हैं, इससे मस्तिष्क में ऑक्सीजन और ब्लड बेहतर सर्कुलेट होता है। वहीं, बुजुर्गों में एक्टिविटी उम्र बढ़ने के साथ घटती जाती है।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply