छत्तीसगढ़ में गांवों तक पहुंचा कोरोना: 700 घरों वाले गांव में 119 लोग संक्रमित, इनमें महिला सरपंच और दो पंच भी शामिल, 1 हफ्ते के लिए सील

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दुर्ग18 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ का दुर्ग जिला प्रदेश में कोरोना हॉटस्पॉट बना हुआ है। यहां संक्रमण शहरी इलाकों से निकलकर गांवों तक पहुंच गया है। जिले के ढौर गांव में तो अब तक 119 लोग संक्रमित हो चुके हैं। एक मौत भी हो चुकी है। प्रशासन ने पूरे गांव को कंटेनमेंट जोन बना दिया है। इसके बाद से लगभग 3500 की आबादी वाले इस गांव में सन्नाटा पसरा है।

लगभग 3500 आबादी वाले इस गांव में सन्नाटा पसरा है।

लगभग 3500 आबादी वाले इस गांव में सन्नाटा पसरा है।

गांव में संक्रमण काफी तेजी से फैला। कुछ ही दिनों में संक्रमितों की संख्या 100 के पार चली गई। इनमें गांव की महिला सरपंच और दो पंच भी शामिल हैं। हर दूसरे-तीसरे घर में कोई न कोई संक्रमित है। गांव में करीब 700 घर हैं। ऐहतियात के तौर पर जिला प्रशासन ने गांव को एक हफ्ते के लिए बंद कर दिया है। गांव से न तो कोई बाहर जा सकेगा और न ही कोई गांव में आ सकेगा।

प्रशासन ने लकड़ी और बांस लगाकर गांव के सभी रास्तों को सील कर दिया है।

प्रशासन ने लकड़ी और बांस लगाकर गांव के सभी रास्तों को सील कर दिया है।

गांव में कई कारणों से फैला संक्रमण
दुर्ग SDM विनय पोयाम ने बताया कि गांव में संक्रमण फैलने के पीछे कई कारण हैं। यहां रहने वाले शहरों में काम करने जाते हैं। आसपास की फैक्ट्रियों में बड़ी संख्या में काम करते हैं। पिछले दिनों गांव में जस गीत सेवा भजन, झांकी प्रतियोगिता और मेला तक लगा। यहीं से वायरस फैला और पूरे गांव को जद में ले लिया। SDM ने यह भी बताया कि अब तक 600 से ज्यादा सैम्पल लिए जा चुके हैं।

स्वास्थ्य अधिकारियों की मानें तो गांव में झांकी प्रतियोगिता और मेले के आयोजन के बाद लोग सर्दी-जुकाम से पीड़ित हो गए। इसके बाद सभी ने कोरोना जांच कराई। इसमें उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply