2020 में कोरोना के साइड इफेक्ट्स: दुनियाभर में करीब 7.8 करोड़ कार कम बिकीं, प्रोडक्शन भी 16% तक गिर गया

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्लीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

कोरोना महामारी ने बीते साल दुनियाभर में कार कंपनियों का प्रोडक्शन प्रभावित किया। इंटरनेशनल ऑर्गनाइजेशन ऑफ मोटर व्हीकल मैन्युफैक्चरर्स के मुताबिक, महामारी की वजह से 2020 में दुनियाभर में कार प्रोडक्शन 16% तक गिर गया। ओईका के अध्यक्ष, फू बिंगफेंग ने कहा कि कम से कम 78 मिलियन (करीब 7.8 करोड़) कार बिक्री की कमी के साथ ऑटो सेक्टर ने अपने सबसे बेर दौर का सामना किया।

साउथ अमेरिका में प्रोडक्शन 30% तक गिरा
आर्गनाइजेशन द्वार जारी आंकड़ों से पता चलता है कि बीते साल यूरोप में कार प्रोडक्शन 21% तक गिर गया। वहीं, नॉर्थ अमेरिका में प्रोडक्शन 20% और साउथ अमेरिका में 30% तक गिर गया। हालांकि, एशिया में कार प्रोडक्शन में 10% की गिरावट आई। दुनियाभर में कुल कार प्रोडक्शन का आधा प्रोडक्शन एशिया में ही होता है।

गिरावट में 10 साल पीछे कर दिया
ओईका ने कहा कि 2020 के शुरुआती महीनों में चीन में प्रोडक्शन गिर गया था, लेकिन यहां रिकवरी भी तेजी से हुई। बीते साल चीन में कार प्रोडक्शन में महज 2% की गिरावट देखने को मिली। बीते साल का आंकड़ा 2010 के बिक्री स्तर के बराबर था। फू बिंगफेंग ने कहा कि 2020 के परिणाम ने पिछले 10 साल में हुए विकास को पूरी तरह मिटा दिया।

महंगे कच्चे माल का सामना कर रही कंपनी
बीते साल कार प्रोडक्शन में इस्तेमाल होने वाले कच्चे माल की कीमतें कई गुना तक बढ़ गईं। इसमें स्टील में सबसे ज्यादा 50% की बढ़त हुई है। दूसरी तरफ, सेमीकंडक्टर में देरी की वजह से कार कंपनी के साथ ग्राहकों को भी लंबा इंतजार करना पड़ रहा है। इन सब के साथ सप्लाई चेन अभी भी प्रभावित है।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply