भास्कर इंटरव्यू: पहली बार टी-20 टीम में चुने गए ईशान किशन बोले- कोहली के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर करने को लेकर उत्साहित हूं

  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Ishan Kishan Interview To Dainik Bhaskar: Speaks On His Selection For India Vs England T20 Series

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अहमदाबादएक घंटा पहलेलेखक: राजकिशोर

  • कॉपी लिंक

विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन को इंग्लैंड के खिलाफ T-20 सीरीज के लिए ऋषभ पंत और लोकेश राहुल के साथ टीम में जगह दी गई है। 5 T-20 की सीरीज 12 से 20 मार्च तक अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में होगी। टीम में सिलेक्शन को लेकर ईशान ने सारा श्रेय पिता प्रणव पांडे और परिवार को दिया है।

ईशान ने भास्कर से कहा कि मुझे यहां तक पहुंचाने के लिए पिता और परिवार ने काफी त्याग किया है। उनका सपना है कि मैं बड़ा क्रिकेटर बनूं। अब मौका मिला है कि मैं उनका सपना सच कर दिखाऊं।

इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने पिछले साल UAE में खेले गए IPL के 14 मैचों में 57.33 की औसत से 516 रन बनाए थे। वे मुंबई इंडियंस टीम के टॉप स्कोरर और ओवरऑल 5वें नंबर पर रहे थे। उनका स्ट्राइक रेट 145.76 का था। हाल ही में विजय हजारे ट्रॉफी के एक मैच में मध्यप्रदेश के खिलाफ उन्होंने 94 बॉल पर 19 चौके और 11 छक्के की मदद से 173 रन की पारी खेली थी। भास्कर ने टीम इंडिया में सिलेक्शन के बाद ईशान से बातचीत की…

इंडिया टीम में सिलेक्शन का श्रेय किसको देंगे?
इसका श्रेय मेरे पापा और परिवार को जाता है। उन्होंने मेरे करियर और सपने के लिए काफी त्याग किया है। मेरे पापा जिला स्तरीय से लेकर क्लब क्रिकेट टूर्नामेंट में खेलने के लिए मुझे लेकर जाते थे। जब तक मैच चलता, वे वहीं पर रुके रहते थे। वे रोजाना मुझे ट्रेनिंग पर लेकर जाते थे। बिहार में क्रिकेट बोर्ड के सस्पेंड होने पर उन्होंने झारखंड भेजा, ताकि घरेलू टूर्नामेंट में खेलने का मौका मिले। जब मैं बेहतर नहीं कर पा रहा था तो मेरे पापा ने मेरा सपोर्ट किया। अब समय आ गया है कि मैं उनके सपने को सच करके दिखाऊं।

वर्तमान टीम में ऋषभ पंत, लोकेश राहुल जैसे विकेटकीपर बल्लेबाज हैं, क्या आपको लगता है कि प्लेइंग इलेवन में मौका मिल सकेगा?
देखिए पिछले कुछ सालों में कॉम्पिटीशन काफी बढ़ा है। बेहतर करने की चुनौती सभी के सामने हैं। अगर मुझे मौका मिलता है, तो मैं अपना बेस्ट देने की कोशिश करूंगा। मेरी कोशिश है कि मैं रन बनाऊं और टीम की उम्मीदों पर खरा उतरूं।

आपको इंडिया टीम में सिलेक्शन की जानकारी कैसे मिली? आपने सबसे पहले यह खुशखबरी किसे दी?
शनिवार को BCCI के एक अधिकारी का फोन आया था। मुझे लगा कि विजय हजारे ट्रॉफी में बेहतर पारी खेली है, उसकी बधाई देंगे। लेकिन उन्होंने बताया कि इंग्लैंड के खिलाफ T-20 सीरीज के लिए टीम में मेरा चयन हो गया है। उनसे बात करने के बाद मैंने पापा को फोन किया और खुशखबरी दी। यह सुनने के बाद वे भावुक हो गए।

भारतीय टीम के किस खिलाड़ी के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर करने का आपका सपना पूरा होने वाला है?
भारतीय टीम में शामिल ज्यादातर खिलाड़ियों के साथ मैंने IPL और इंडिया-A टीम में क्रिकेट खेला है और ड्रेसिंग रूम शेयर किया है। हालांकि, विराट (कोहली) पाजी के साथ अब तक ड्रेसिंग रूम शेयर नहीं किया। ऐसे में उनके साथ ड्रेसिंग रूम शेयर करने को लेकर उत्साहित हूं। मुझे उनसे काफी कुछ सीखने का मौका मिलेगा।

आपको क्या लगता है कि IPL और घरेलू टूर्नामेंट में बेहतर प्रदर्शन करने का फायदा मिला?
खिलाड़ी के तौर पर मेरी हमेशा कोशिश होती है कि मैं अपना बेस्ट दूं। मैंने कभी इसकी चिंता नहीं की कि इसका फल मुझे कब मिलेगा। IPL के पिछले सीजन में मेरा प्रदर्शन बेहतर रहा। टीम के साथी हार्दिक पंड्या और रोहित शर्मा ने मुझे काफी गाइड किया। वे हमेशा कहते थे कि मैं खेल पर ध्यान दूं। मौका जरूर मिलेगा।

Source link

Leave a Reply