टूलकिट केस: कोर्ट ने एक्टिविस्ट दिशा को एक दिन की रिमांड पर भेजा, पुलिस निकिता और शांतनु के सामने बैठाकर करेगी पूछताछ

  • Hindi News
  • National
  • Greta Thunberg Toolkit Case Kisan Andolan Update; Activist Disha Ravi, Nikita Jacob, Shantanu Muluk

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
दिल्ली पुलिस ने 14 फरवरी को क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि को अरेस्ट किया था। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar

दिल्ली पुलिस ने 14 फरवरी को क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि को अरेस्ट किया था। (फाइल फोटो)

किसान आंदोलन से जुड़े टूलकिट मामले में क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि को चीफ मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट ने एक दिन की पुलिस रिमांड में भेज दिया है। हालांकि, दिल्ली पुलिस ने कोर्ट से 5 दिन की रिमांड मांगी थी। शुक्रवार को दिशा की रिमांड 3 दिन बढ़ा दी गई थी, जो आज पूरी हो रही थी। इस मामले में सह-आरोपी निकिता जैकब और शांतनु मुलुक से साइबर सेल में पूछताछ की जा रही है।

पुलिस दिशा, शांतनु और निकिता को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ करना चाहती है। इसकी वजह पुलिस ने यह बताई थी कि दिशा ने मामले में सारे आरोप शांतनु और निकिता पर डाल दिए थे।

जमानत अर्जी पर सुनवाई कल
दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट दिशा की जमानत याचिका पर कल (23 फरवरी) फैसला सुना सकती है। पिछली सुनवाई पर पुलिस ने कोर्ट से कहा था कि भारत को बदनाम करने की ग्लोबल साजिश में दिशा भी शामिल है। उसने किसान आंदोलन की आड़ में माहौल बिगाड़ने की कोशिश थी। दिशा ने न सिर्फ टूलकिट बनाई और शेयर की, बल्कि वह खालिस्तान की वकालत करने वाले के संपर्क में भी थी। खालिस्तानी संगठनों ने दिशा का इस्तेमाल किया। हालांकि, दिशा के वकील ने इन आरोपों को निराधार बताया था।

14 फरवरी को दिशा को अरेस्ट किया गया था
दिल्ली पुलिस ने 14 फरवरी को दिशा को अरेस्ट किया था। दिल्ली पुलिस के मुताबिक, फ्राइडे फॉर फ्यूचर कैम्पेन शुरू करने वालों में शामिल दिशा ने टूलकिट का गूगल डॉक बनाकर उसे सर्कुलेट किया। इसके लिए उन्होंने वॉट्सऐप ग्रुप बनाया था। वे इस टूलकिट की ड्राफ्टिंग में भी शामिल थीं और उन्होंने ही ग्रेटा थनबर्ग से टूलकिट शेयर की थी।

Source link

Leave a Reply