मोटेरा दिलाएगा लॉर्ड्स का टिकट: इंग्लैंड से दो टेस्ट इसी मैदान पर, टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के लिए भारत को कम से कम एक जीत और एक ड्रॉ जरूरी

  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • India England Or Australia Who Will Qualify?; ICC World Test Championship Final Qualification Scenarios | WTC Points Table Latest Update

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अहमदाबाद2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

भारत और इंग्लैंड के बीच 4 टेस्ट की सीरीज के आखिरी दो मैच अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में खेले जाएंगे। फिलहाल, सीरीज 1-1 की बराबरी पर है। यही दो मैच हैं, जो टीम इंडिया को ICC टेस्ट चैं‍पियनशिप के फाइनल का टिकट दिलाएंगे। फिलहाल, टीम इंडिया चैं‍पियनशिप की पॉइंट्स टेबल में न्यूजीलैंड के बाद नंबर-2 पर काबिज है।

यदि भारतीय टीम को फाइनल खेलना है, तो टॉप-2 में बने रहना होगा। इसके लिए इंडिया को आखिरी दो मैच में कम से कम एक जीत और एक ड्रॉ कराना जरूरी है। दोनों में से कोई एक मैच हारने पर टीम फाइनल की रेस से बाहर हो जाएगी।

18 जून से लॉर्ड्स में होगा फाइनल
ICC पहली बार वर्ल्ड टेस्ट चैं‍पियनशिप करा रही है। फाइनल 18 जून से लॉर्ड्स क्रिकेट ग्राउंड पर खेला जाना है।

न्यूजीलैंड फाइनल में पहुंच चुकी, इंग्लैंड-ऑस्ट्रेलिया के भी चांस
न्यूजीलैंड पहले ही फाइनल में अपनी जगह पक्की कर चुका है। वहीं, इंग्लैंड को चैं‍पियनशिप के फाइनल में पहुंचना है तो उसे दोनों मुकाबले जीतने होंगे। यदि सीरीज 2-2 या 1-1 से ड्रॉ रहती है तो ऑस्ट्रेलिया फाइनल में पहुंच जाएगी। इसके अलावा अगर इंग्लैंड की टीम यह सीरीज 2-1 से जीतती है तो भी ऑस्ट्रेलिया फाइनल में पहुंच जाएगा।

कोरोना के चलते पॉइंट्स टेबल के फॉर्मेट में बदलाव
कोरोना के कारण क्रिकेट पर काफी असर पड़ा। इसके चलते ICC ने टेस्ट चैं‍पियनशिप के पॉइंट्स टेबल के फॉर्मेट में थोड़ा बदलाव किया था, ताकि कम मैच खेलने वाली टीम के साथ भेदभाव न हो। अनिल कुंबले की अगुवाई वाली ICC की क्रिकेट कमेटी ने टीमों की रैंकिंग पर्सेंटेज बेसिस पर कैलकुलेट करने का फैसला किया था। इस नए सिस्टम में टीमों द्वारा खेली गई सीरीज और उस सीरीज में उनके पॉइंट्स के आधार पर पर्सेंटेज निकाला जा रहा है।

नया सिस्टम कैसे काम करता है?
कोई टीम अगर अपनी सभी छह सीरीज खेलती है तो अधिकतम 720 पॉइंट्स पा सकती है। छह सीरीज में अगर टीम के कुल 480 पॉइंट्स होते हैं तो उसका पर्सेंटेज पॉइंट 66.67% होगा। वहीं, कोई टीम अगर पांच सीरीज ही खेलती है तो मैक्सिमम पॉइंट्स 600 हो जाएंगे। पांच सीरीज खेलने वाली इस टीम के अगर 450 पॉइंट्स होते हैं तो उसकेे पर्सेंटेज पॉइंट्स 75% होंगे। ऐसे में पांच सीरीज खेलने वाली टीम छह सीरीज खेलकर 480 पॉइंट्स पाने वाली टीम से ऊपर रहेगी।

Source link

Leave a Reply