ऑस्ट्रेलियन ओपन के बादशाह जोकोविच: फाइनल में मेदवेदेव को लगातार सेटों में हराया, रिकॉर्ड 9वीं बार खिताब अपने नाम किया

  • Hindi News
  • Sports
  • Novak Djokovic Becomes Australian Open Champion For Record 9th Time Defeats Deniil Medvedev In Finals

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मेलबर्न3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
जोकोविच ने लगातार तीसरी बार ऑस्ट्रेलियन ओपन खिताब जीता। - Dainik Bhaskar

जोकोविच ने लगातार तीसरी बार ऑस्ट्रेलियन ओपन खिताब जीता।

वर्ल्ड नंबर-1 सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने वर्ल्ड नंबर-4 रूस के डेनिल मेदवेदेव को हराकर ऑस्ट्रेलियन ओपन टाइटल जीत लिया। यह उनका रिकॉर्ड 9वां खिताब है। इससे पहले वे 2008, 2011, 2012, 2013, 2015, 2016, 2019 और 2020 में भी यह ग्रैंड स्लैम जीत चुके हैं। जोकोविच ने मेदवेदेव को लगातार सेटों में 7-5, 6-2, 6-0 से हरा दिया। जोकोविच का यह 18वां ग्रैंड स्लैम खिताब है। वे अब तक करियर में 9 ऑस्ट्रेलियन ओपन, 5 विम्बलडन, 3 यूएस ओपन और 1 फ्रेंच ओपन जीत चुके हैं।

जोकोविच ने सबसे ज्यादा 9 बार ऑस्ट्रेलियन ओपन जीता
जोकोविच ने अब तक कुल 17 बार ऑस्ट्रेलियन ओपन टूर्नामेंट खेला है। जिसमें से वे सबसे ज्यादा बार चैम्पियन बने हैं। इसके बाद रोजर फेडरर और रॉय इमरसन ने 6-6 बार और आंद्रे अगासी, जैक क्रोफॉर्ड और केन रोजवेल ने 4-4 बार यह खिताब अपने नाम किया है।

ऑस्ट्रेलियन ओपन में जोकोविच ने 90% मैच जीते
जोकोविच का इस ग्रैंड स्लैम में 90% विनिंग रिकॉर्ड है। उन्होंने अब तक इस टूर्नामेंट में 83 मैच खेले हैं। इसमें से 75 में उन्हें जीत और 8 मैच में हार मिली है। उन्हें आखिरी बार 2018 में एच चुंग के हाथों लगातार सेटों में हार मिली थी।

जोकोविच तोड़ देंगे फेडरर का रिकॉर्ड
वर्ल्ड नंबर-1 जोकोविच अगले महीने फेडरर के सबसे ज्यादा हफ्ते पहली पोजिशन पर रहने के रिकॉर्ड को तोड़ देंगे। फेडरर टेनिस करियर में कुल 310 हफ्ते नंबर-1 रहे हैं। वहीं, जोकोविच को नंबर-1 रहते 306 हफ्ते हो चुके हैं। 8 मार्च, 2021 को वे 311 हफ्ते नंबर-1 रहते शुरू करेंगे।

सिर्फ नडाल ही जोकोविच को रिकॉर्ड तोड़ने से रोक सकते थे
नडाल के पास जोकोविच को फेडरर का रिकॉर्ड तोड़ने से रोकने का मौका था। अगर नडाल ATP कप, ऑस्ट्रेलियन ओपन और रोटरडैम ओपन जीत जाते, तो वे ATP रैंकिंग में जोकोविच को पीछे छोड़ सकते थे। हालांकि, नडाल ने चोट की वजह से ATP कप से नाम वापस ले लिया था।

ATP ने रैंकिंग और रेटिंग को फ्रीज किया
इसलिए अब जोकोविच का फेडरर के रिकॉर्ड को तोड़ना तय है। साथ ही ATP रैंकिंग को भी फ्रीज कर दिया गया है। इसका मतलब किसी भी खिलाड़ी के जीतने हारने से उनकी रेटिंग और रैंकिंग पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

Source link

Leave a Reply