IPL की 8 टीमों की नई लिस्ट: पंजाब ने सबसे ज्यादा 9 नए खिलाड़ी जोड़े; मैक्सवेल, जेमिसन के आने से विराट की RCB का बैटिंग लाइनअप अब सबसे अटैकिंग

  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Teams After IPL Auction 2021 : Royal Challengers Banglore Chennai Super Kings, Sunrisers Hyderabad, Delhi Capitals, Mumbai Indians

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चेन्नई37 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

IPL ऑक्शन के बाद 14वें सीजन के लिए टीमों का लाइन अप तैयार हो गया। गुरुवार को हुए नीलामी में प्रिटी जिंटा की टीम पंजाब किंग्स ने सबसे ज्यादा 9 खिलाड़ी खरीदे। वहीं, कोलकाता नाइटराइडर्स, दिल्ली कैपिटल्स, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु और राजस्थान रॉयल्स ने 8-8 खिलाड़ियों पर बोली लगाई। मुंबई इंडियंस ने 7, चेन्नई सुपरकिंग्स ने 6 और सनराइजर्स हैदराबाद ने सबसे कम 3 खिलाड़ियों को खरीदा। आइए जानते हैं, कौन सी टीम का क्या लाइन अप है…

1. रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु: बैटिंग लाइन-अप काफी अटैकिंग
नीलामी के बाद RCB की बैटिंग लाइन अप अटैकिंग हो गई है। कोहली के अलावा अब टीम में ग्लेन मैक्सवेल और एबी डिविलियर्स जैसे खिलाड़ी होंगे। इसलिए कप्तान कोहली पडिक्कल के साथ ओपनिंग करने भी आ सकते हैं। वहीं, लोअर ऑर्डर में काइल जेमिसन और डैनियल क्रिश्चियन जैसे ऑलराउंडर्स होंगे, जो कि टीम को मजबूत बना सकती हैं। युवा खिलाड़ियों में मोहम्मद अजहरुद्दीन खतरनाक साबित हो सकते हैं।

2. कोलकाता नाइटराइडर्स: कम पैसे खर्च कर खरीदे बेहतरीन खिलाड़ी
KKR ने इस ऑक्शन में सूझबूझ वाले फैसले लिए। राजस्थान ने जितना पैसा खर्च कर क्रिस मॉरिस को जोड़ा, उससे करीब आधी रकम में KKR ने 8 शानदार खिलाड़ी खरीद लिए। इनमें शाकिब अल हसन और बेन कटिंग जैसा ऑलराउंडर, करुण नायर जैसा बैट्समैन और हरभजन सिंह जैसा अनुभवी स्पिनर शामिल है।

3. चेन्नई सुपरकिंग्स: ऑफ स्पिन ऑलराउंडर पर रहा जोर
चेन्नई पिछले कुछ सीजन से स्पिनर को तरजीह देती आ रही है। इस ऑक्शन में भी ऐसा ही हुआ। हरभजन को रिलीज करते वक्त ही ऐसा लग रहा था कि टीम किसी अच्छी ऑफ-स्पिनर को खरीदेगी। मोइन अली और कृष्णप्पा गौतम जैसे अच्छे ऑफ-स्पिनर को खरीदकर टीम ने ऐसा ही किया।

4. दिल्ली कैपिटल्स: 3.2 करोड़ में एक कप्तान और अनुभवी तेज गेंदबाज को खरीदा
दिल्ली के लिए यह ऑक्शन शानदार रहा। उन्होंने 3.2 करोड़ रुपए में स्टीव स्मिथ के रूप में एक कप्तान और उमेश यादव के रूप में एक अनुभवी तेज गेंदबाज को खरीदा। स्मिथ नॉकआउट राउंड में कप्तान श्रेयस अय्यर को असिस्ट भी कर सकते हैं। इसकि पिछले साल IPL फाइनल में कमी दिखी थी, जब मुंबई ने दिल्ली को आसानी से हरा दिया था। वहीं, डेथ ओवर्स में उमेश, कागिसो रबाडा और एनरिच नोर्त्जे की मदद कर सकेंगे।

5. राजस्थान रॉयल्स: मॉरिस के आने से डेथ ओवर्स में बैट और बॉल दोनों से मिलेगी मदद
राजस्थान ने क्रिस मॉरिस के रूप में IPL इतिहास का सबसे महंगा प्लेयर खरीदा। उन्हें ऑक्शन से पहले जोफ्रा आर्चर के बैकअप के रूप में एक डेथ ओवर स्पेशलिस्ट चाहिए था। मॉरिस टीम के लिए डेथ ओवर्स में बैट और बॉल दोनों से मददगार साबित होंगे। वहीं, राहुल तेवतिया और रियान पराग के साथ शिवम दुबे भी लोअर मिडिल ऑर्डर में अच्छे ऑप्शन हो सकते हैं। मुस्तफिजुर रहमान के आने से टीम की बॉलिंग अटैक मजबूत हुई है।

6. पंजाब किंग्स: फास्ट बॉलिंग पर दिया जोर, शमी को रिचर्डसन और मेरिडिथ के रूप में नए साथी मिले
पंजाब ने ऑक्शन में तेज गेंदबाजों पर ध्यान दिया। उन्होंने इस ऑक्शन जे रिचर्डसन और राइली मेरिडिथ जैसे तेज गेंदबाज खरीदे। रिचर्डसन ऑस्ट्रेलिया के बिग बैश लीग 2020/21 सीजन में 29 विकेट के साथ सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज रहे थे। पंजाब को पिछले साल मोहम्मद शमी के साथी की कमी खली थी। जो रिचर्डसन और मेरिडिथ पूरी करेंगे। दोनों गेंदबाज 140+ की रफ्तार से यॉर्कर फेंकने में माहिर हैं।

7. मुंबई इंडियंस: गेंदबाजी लाइनअप को धार दी
डिफेंडिंग चैंपियन मुंबई इंडियंस ने गेंदबाजी लाइनअप को मजबूत करने पर जोर दिया। नाथन कूल्टर नाइल, एडम मिल्ने, जेम्स नीशम और पीयूष चावला की खरीद इस बात की पुष्टि करती है। उम्मीद के मुताबिक अर्जुन तेंदुलकर को मुंबई ने ही खरीदा। वे भी बाएं हाथ के तेज गेंदबाज हैं। ट्रेंट बोल्ट की मौजूदगी में उन्हें अपने पहले सीजन में काफी कुछ सीखने को मिलेगा।

8. सनराइजर्स हैदराबाद: कम स्लॉट के कारण ज्यादा खरीदारी नहीं की
हैदराबाद के पास ऑक्शन से पहले सबसे कम 3 स्लॉट बचे थे। हालांकि, उनके पर्स में 10.75 करोड़ रुपए की अच्छी खासी रकम बची थी। उन्होंने कई अच्छी प्लेयर्स को खरीदने की कोशिश जरूर की, पर दूसरी टीमों के ज्यादा बोली लगाने के कारण वे उन्हें खरीद नहीं सके। टीम को केदार जाधव, मुजीब उर रहमान और जगदीश सुचित जैसे खिलाड़ियों से ही काम चलाना पड़ा। मिडिल ऑर्डर में मनीष पांडे पर सारा दबाव आता था। ऐसे में केदार जाधव अच्छे ऑप्शन साबित हो सकते हैं। डेविड वॉर्नर, विलियम्सन, भुवनेश्वर कुमार, मिचेल मार्श की मौजूदगी में फ्रेंचाइजी की कोर टीम मजबूत है।

Source link

Leave a Reply