भास्कर के सवाल पर डॉ. हर्षवर्धन का जवाब: दो सप्ताह में शुरू हो सकता है 50 साल से ऊपर के और गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लोगों का टीकाकरण

  • Hindi News
  • National
  • Vaccination Of People Above 50 Years And Suffering From Serious Diseases Can Begin In Two Weeks

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली20 मिनट पहलेलेखक: पवन कुमार

  • कॉपी लिंक
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन। - Dainik Bhaskar

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन।

  • भास्कर ने पूछा था- जब पर्याप्त वैक्सीन उपलब्ध है तो 50 साल से ऊपर के लोगों को टीके जल्द लगाने में क्या परेशानी है?
  • कहा- छत्तीसगढ़ सरकार का कोवैक्सीन लाैटाना, वहां के लोगों की बदकिस्मती है

2 से 3 हफ्ते में 50 साल से ऊपर के लोगों व गंभीर रोगों से ग्रस्त लोगों को कोरोना टीका लगने लगेगा। यह जानकारी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने दी है। ऐसे लोगों की संख्या देश में करीब 27 करोड़ है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, ‘देश में कितने टीके उपलब्ध हैं, इसमें से कितने किस देश को और कैसे देने हैं, ये सब वरिष्ठ मंत्रियों का समूह तय करता है।

देश में टीका कब-कैसे देना है ये नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप ऑन वैक्सिनेशन एडमिनिस्ट्रेशन फाॅर कोविड-19 तय करता है। अभी 18 से 19 टीके ट्रायल के अलग-अलग चरणाें में हैं।’ हर्षवर्धन ने छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से भारत बायोटेक की कोवैक्सीन लौटाने पर कहा, ‘वैक्सीन लाैटाना, वहां के लोगों की बदकिस्मती है।’ टीका लगवाने के लिए जब स्वास्थ्यकर्मियाें का आना कम हुआ तो फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीका देना शुरू किया गया।

जब फ्रंटलाइन वाले समूह के लोगों के आने की रफ्तार कम होगी, तब दूसरे समूह का भी टीकाकरण होगा। सरकार ने एक कराेड़ स्वास्थ्यकर्मियाें और दाे कराेड़ फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं के साथ इस वर्ग काे भी प्राथमिकता वाले 30 कराेड़ लोगों में शामिल किया है। देश में 85 लाख हेल्थ व फ्रंटलाइन वर्कर्स काे टीका लग चुका है।

दूसरा डोज कब लगेगा इस पर अभी स्पष्टता आनी है

^टीकों का दूसरा डोज कब लगेगा इस पर आईसीएमआर दिशा-निर्देश तय कर रहा है। तीन-चार दिन में स्पष्ट हो जाएगा। दूसरा डोज लगवाने कई लोग नहीं आए, क्योंकि कुछ लोग मानते हैं दूसरा डोज 6 हफ्ते बाद लगना चाहिए। स्पष्टता मिलते ही टीकाकरण तेजी से बढ़ेगा।
-डॉ जयेश लेले, महासचिव, आईएमए

सावधान! रोज फिर से 10 हजार से अधिक कोरोना मरीज मिलने लगे हैं

देश में 74% नए मामले केरल और महाराष्ट्र से, एक दिन में 2 हजार से ज्यादा सक्रिय बढ़े

देश में 12 फरवरी काे काेराेना के नए मामले 10 हजार से कम हाे गए थे। लेकिन इसके बाद से आंकड़ा एक बार फिर 10 हजार से अधिक हाे गया। सोमवार काे 11,649 केस सामने आए। हालांकि 90 माैतें हुईं। यानी इनका आंकड़ा 100 से कम बना हुआ है। अब कुल संक्रमिताें की संख्या एक कराेड़ 9 लाख से ज्यादा हाे गई है। सक्रिय मामले में 1,39,637 हैं। देश में 74% नए केस वाले दाे राज्य- केरल और महाराष्ट्र हैं। केरल में 4,612 में केस सामने आए। इस तरह देखा जाए तो देश में सक्रिय मरीजों की संख्या 2073 बढ़ गई।

महाराष्ट्र में रोजाना 500-600 बढ़ रहे मरीज, पवार बोले- कड़े निर्णय लेने होंगे
महाराष्ट्र में रोज कोरोना मरीजों की संख्या 500 से 600 बढ़ रही है। राज्य में सोमवार को 3,365 नए मरीज मिले। जबकि 23 मरीजों की कोरोना से मौत हो गई। राज्य में कोरोना संक्रमित मरीजों की मृत्युदर 2.49% है। उप मुख्यमंत्री अजित पवार ने कहा है कि कड़े निर्णय लेने होंगे। कई देशों में मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी होने पर दोबारा लॉकडाउन करना पड़ा था। महाराष्ट्र में भी मरीजों बढ़ती संख्या चिंताजनक है।
स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने लोग नियमों का पालन करें वरना फिर से लॉकडाउन लगाना पड़ेगा।

Source link

Tags:,

Leave a Reply