लॉकडाउन में सट्‌टेबाजों का नया आइडिया, चलती कार में कर रहे थे सौदेबाजी, 7 सटोरिए गिरफ्तार

रायपुरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

फोटो तेलीबांधा थाने की है। कैमरों को देख सट्‌टेबाजी में शामिल युवक मुंह छुपा रहे थे।

  • दो अलग-अलग इनपुट्स पर पुलिस की टीम ने की कार्रवाई युवकों के पास से कैश, लैपटॉप और कई मोबाइल मिले
  • लॉकडाउन में होटल में रूम लेकर सट्‌टे का रैकेट ऑपरेट नहीं कर पाए को चलती कार में शुरू कर दिया खेल

तेलीबांधा थाना पुलिस ने दो अलग-अलग मामलों में 7 सटोरियों को पकड़ा है। दोनों ही मामले में सट्‌टे का धंधा चलती कार में ऑपरेट हो रहा था। लॉकडाउन के बीच सट्‌टेबाजों को पकड़े जाने का डर है, इसलिए बार-बार अपनी लोकेशन चेंज करते हुए कार में ही सट्‌टे का सौदा किया जा रहा था। दोनों मामलों में पुलिस ने कैश और लैपटॉप बरामद किया है। गिरफ्तार किए गए युवकों के तार मुंबई और एमपी के मंडला के सटोरियों से जुड़े हैं। फिलहाल पूछताछ और जांच जारी है।

केस – 1

फोटो सट्‌टेबाजी में संलिप्त युवकों की है, लॉकडाउन के बीच बेखौफ होकर कार में ये घूम रहेे थे।

फोटो सट्‌टेबाजी में संलिप्त युवकों की है, लॉकडाउन के बीच बेखौफ होकर कार में ये घूम रहेे थे।

इस प्रकरण में पुलिस ने गुढ़ियारी निवासी रितेश गोविंदानी, जितेश प्रेमचंदानी और सिविल लाइंस के रहने वाले जगजीत सिंह को पकड़ा है। 21 सितंबर को रायपुर के एक होटल से 10 लोगों को पकड़ा गया। इसी केस में आगे की जांच के सिलसिले में पुलिस एमपी के मंडला गई हुई थी। यहां पुलिस को पता चला कि युवक आई 20 कार में घूम-घूम कर सट्‌टे का काम कर रहे हैं। तेलीबांधा चौके पास से इन युवकों को पकड़ा गया। पुलिस ने इनके पास से 10 हजार रुपए, 1 लैपटॉप, 9 मोबाइल फोन, 10 करोड़ रुपए से ज्यादा की सट्टा पट्टी और कार जब्त कर ली है।

केस – 2

इन सट्‌टेबाजों ने बताया कि पुलिस होटलों में छापे मारकर सट्‌टे के रैकेट पकड़ रही थी, इसलिए ये चलती कार में बड़ी चालाकी से अपना काम कर रहे थे।

इन सट्‌टेबाजों ने बताया कि पुलिस होटलों में छापे मारकर सट्‌टे के रैकेट पकड़ रही थी, इसलिए ये चलती कार में बड़ी चालाकी से अपना काम कर रहे थे।

इस मामल में पुलिस ने जांजगीर के रहने वाले गौरव सबरवाल, बिलासपुर निवासी छोटे देवांगन, जांजगीर के ही महेन्द्र देवांगन और मोहम्मद रईस को पकड़ा गया है। ये युवक लॉकडाउन में किसी होटल वगैरह में रूम नहीं ले पाए, तो चलती कार में सट्‌टे का काम करने लगे। मुखबिर से पुलिस को इनके बारे में इनपुट मिला था। वीआईपी रोड चौक के पास से इन्हें पकड़ा गया। इनके पास से पुलिस को 12 हजार रुपए, 1 लैपटॉप, 10 मोबाइल फोन और 1 करोड़ रुपए से ज्यादा की सट्टा पट्टी मिली है।

0

Source link

Leave a Reply