रायपुर में कोरोना के इलाज के नाम पर ठगी करने वाला खुद संक्रमित; मेकाहारा में भर्ती, नर्स पत्नी को जेल भेजा गया

रायपुरfour घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

रायपुर में कोरोना इलाज की वैक्सीन के नाम पर ठगी करने वाला खुद संक्रमित है। उसे अंबेडकर अस्पताल में भर्ती कराया है। इसी अस्पताल में उसकी पत्नी भी थी। उसे जेल भेज दिया है। एक दिन पहले ही पुलिस ने ठगी करने वाले दंपति को गिरफ्तार किया था। 

  • सिविल लाइंस क्षेत्र में महिला से होम आइसोलेशन में इलाज के नाम पर की थी ठगी
  • कोर्ट के आदेश पर जेल भेजने से पहले पुलिस ने दंपति का कराया था कोरोना टेस्ट

छत्तीसगढ़ के रायपुर में कोरोना इलाज की वैक्सीन के नाम पर ठगी करने वाला अब खुद संक्रमित है। पुलिस ने उसे अंबेडकर अस्पताल में भर्ती कराया है। इसी अस्पताल में उसकी पत्नी भी स्टाफ नर्स थी। हालांकि, पुलिस ने उसे जेल भेज दिया है। एक दिन पहले ही सिविल लाइंस पुलिस ने ठगी करने वाले दंपति को गिरफ्तार किया था।

दरअसल, पुलिस ने बुधवार को आरोपी दंपति मेकाहारा की स्टाफ नर्स दीपा दास और उसके पति राकेश चंद्र सिंह को पकड़ा था। दोनों को कोर्ट से जेल भेजने के आदेश हुए थे। इससे पहले पुलिस ने दोनों का कोरोना टेस्ट कराया। इसमें आरोपी राकेश सिंह की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके बाद उसे मेकाहारा में ही भर्ती कराया गया है।

कोरोना वैक्सीन के नाम पर लगाया था 10 हजार रुपए का इंजेक्शन
सिविल लाइंस क्षेत्र की एक महिला की रिपोर्ट कुछ दिन पहले कोरोना पॉजिटिव आई थी। इसके बाद से वह होम आइसोलेशन पर थीं। इस दौरान आरोपी दंपति ने उनसे संपर्क किया और घर में इलाज का three हजार रुपए खर्च बताया। आरोपी नर्स दीपा ने महिला को कोरोना की वैक्सीन बताकर दो इंजेक्शन भी लगाए। फिर इसके 10 हजार रुपए मांगने लगे।

0

Source link

Leave a Reply