बुखार व ऑक्सीजन लेवल की कमी के चलते डिप्टी सीएम सिसोदिया एलएनजेपी में भर्ती

नई दिल्ली10 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

फाइल फोटो

  • उप-मुख्यमंत्री 14 सिंतबर को जांच में पाए गए थे कोरोना पाॅजिटिव

दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को बुखार और ऑक्सीजन लेवल में कमी के चलते बुधवार दोपहर को लोक नायक जय प्रकाश नारायण (एलएनजेपी) अस्पताल में भर्ती कराया गया। डॉक्टरों की एक टीम उप मुख्यमंत्री का इलाज कर रही है। इससे पहले उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को 13 सितंबर को बुखार आया था। जिसके चलते वे 14 सितंबर विधानसभा सत्र में भी हिस्सा नहीं ले पाए थे। उनकी कोरोना जांच हुई, रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

14 सितंबर की शाम को उन्होंने सोशल मीडिया पर इसकी पुष्टि करते हुए कहा था, मुझे हल्का बुखार होने के बाद अपना कोाविड-19 टेस्ट कराया था। रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मैं सेल्फ आइसोलेशन में चला गया हूं। अभी तक मुझे बुखार या कोई अन्य समस्या नहीं है। मैं ठीक हूं।

आपके आशीर्वाद से मैं जल्द ही पूरी तरह से ठीक हो जाऊंगा और जल्द ही काम पर लौटूंगा। मनीष सिसोदिया दिल्ली सरकार में ऐसे दूसरे मंत्री हैं, जो कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। इससे पहले दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कोविड-19 पॉजिटिव पाए जाने के बाद काफी समय तक अस्पताल में भर्ती रहे थे।
दिल्ली में अभी ऑक्सीजन की कमी नहीं : सत्येन्द्र जैन

राजधानी में कोरोना के बढ़ते मामले के साथ ही अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी के सवाल पर बुधवार को स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने कहा कि दिल्ली में अभी ऑक्सीजन की दिक्कत नहीं है। अभी 6 से 7 दिन की ऑक्सीजन का स्टॉक है। थोड़ी कमी है, लेकिन हमारा मानना है कि कम से कम 6 से 7 दिन का स्टॉक होना चाहिए। कुछ अस्पतालों में 7 दिन से है। इसे ऑक्सीजन की कमी नहीं कह सकते।

जैन ने कहा कि कुछ सप्लायर्स को राजस्थान में कहा गया है कि पहले वो राजस्थान में सप्लाई करेंगे। ऐसी कुछ समस्या है, जिसे बातचीत करके सुलझाया जा रहा है। जैन ने कहा कि दिल्ली में ऑक्सीजन उत्तरप्रदेश और राजस्थान से आती है। क्योंकि प्लांट्स बड़े एरिया में लगते है।

0

Source link

Leave a Reply