पीयू टीचर्स एसोसिएशन के इलेक्शन ठीक एक दिन पहले स्थगित, नई तारीख फिलहाल तय नहीं; 25 और 26 सितंबर को होने थे इलेक्शन

चंडीगढ़14 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मिनिस्ट्री ऑफ होम की गाइडलाइंस के अनुसार एसओपी भी तैयार कर ली गई थी। टीचर्स एसोसिएशन एक इंडिपेंडेंट बॉडी है और इसका अपना संविधान है। संविधान के तहत ही सभी कैंडिडेट और शेड्यूल तैयार किया गया था। इस बीच पांच टीचरों ने रिप्रेजेंटेशन दी थी कि कोरोनावायरस को देखते हुए इलेक्शन को पोस्टपोन कर देना चाहिए।

  • डीसी से इजाजत नहीं मिली और रजिस्ट्रार ने भी रिटर्निंग ऑफिसर से कहा-पुटा इलेक्शन पा दोबारा विचार करें

पंजाब यूनिवर्सिटी टीचर्स एसोसिएशन के इलेक्शन फिलहाल स्थगित कर दिए गए हैं। 25 और 26 सितंबर को होने वाले इलेक्शन ठीक एक दिन पहले स्थगित करने की वजह रजिस्ट्रार विक्रम नगर द्वारा भेजी गई लेटर है। इसके अलावा डिप्टी कमिश्नर ने अभी तक इलेक्शन कराने की परमिशन नहीं दी है। रिटर्निंग ऑफिसर प्रो. विजय नागपाल ने सभी टीचर्स को लेटर लिखा है कि अनलॉक चार के तहत इलेक्शन कराना संभव था और इसी के लिए ना सिर्फ तारीख बल्कि मिनिस्ट्री ऑफ होम की गाइडलाइंस के अनुसार एसओपी भी तैयार कर ली गई थी। टीचर्स एसोसिएशन एक इंडिपेंडेंट बॉडी है और इसका अपना संविधान है।

संविधान के तहत ही सभी कैंडिडेट और शेड्यूल तैयार किया गया था। इस बीच पांच टीचरों ने रिप्रेजेंटेशन दी थी कि कोरोनावायरस को देखते हुए इलेक्शन को पोस्टपोन कर देना चाहिए। इस रिप्रेजेंटेशन पर पहले रिटर्निंग ऑफिसर ने कोई फैसला नहीं लिया क्योंकि उनका मानना था कि यह उनके अधिकार क्षेत्र में नहीं है। इस बीच उन्होंने कोविड-19 का शिकार हुए 22 टीचरों को भी लेटर लिख दिया था कि वह वोट करने नहीं आ सकते। इस लेटर के कारण उन्होंने डिप्टी कमिश्नर से इलेक्शन की परमिशन मांगी थी। डीसी से इजाजत नहीं मिली और रजिस्ट्रार का भी लेटर आ गया कि पुटा इलेक्शन के बारे में दोबारा विचार करें। इसलिए उनको मजबूरन इलेक्शन रद्द करना पड़ रहा है। अगली तारीख बाद में घोषित की जाएंगी।

0

Source link

Leave a Reply