नक्सलियों का डॉक्टर गिरफ्तार, सर्चिंग पर निकले जवानों ने जंगल में घेरकर पकड़ा, कई सालों से थी पुलिस को तलाश

बीजापुर35 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

फोटो बीजापुर की है। पुलिस का दावा है कारम नाम के इस व्यक्ति से पूछताछ के बाद कई अहम खुलासे हो सकते हैं।

  • जिले के पुसबाका एवं गोरगनगुडा गांव के पास से किया गया गिरफ्तार
  • गिरफ्तार व्यक्ति को इमरजेंसी में इलाज करने की ट्रेनिंग दे रखी थी नक्सलियों ने

बीजापुर. पुलिस ने एक शख्स को गिरफ्तार किया है। इसका नाम कारम नरायण उर्फ कोरसा नरायण है। पुलिस के मुताबिक कारम नक्सलियों का साथी है। पिछले कई सालों से नक्सलियों के साथ सक्रीय था। यह कई घटनाओं में नक्सलियों का साथ देता रहा है। गुरुवार को सर्चिंग ऑपरेशन के दौरान इसे पकड़ लिया गया। 22 सितंबर को थाना बासागुड़ा, जिला पुलिस बल, सीआरपीएफ जवानों की टीम पेगड़ापल्ली, चिपुरभटठी, पुसबाका, गोरगनगुड़ा गांव की ओर रवाना हुई थी ।

सर्चिंग के दौरान पुसबाका एवं गोरगनगुडा के बीच जंगल में घेरकर कारम को पकड़ा गया। यह पुसबाका थाना बासागुड़ा का रहने वाला है। पुलिस के मुताबिक वह नक्सलियों की मेडिकल मदद करता था। इसे इंजेक्शन, टांका लगाने, छोटी-मोटी बीमारियों में दवा देने की ट्रेनिंग खुद नक्सलियों ने दी थी। इसने मेडिकल की पढ़ाई नहीं की है। कारम पर साल 2014 में आर्म्स एक्ट, जान लेवा हमला करने जैसे मामलों में केस दर्ज था। अब इससे पूछताछ कर पुलिस अहम जानकारी जुटाने का प्रयास कर रही है।

0

Source link

Leave a Reply