किसानों के साथ पंजाब के कलाकार; बब्बू मान, गुग्गू गिल, जपजी खैहरा और देव खरोड़ बोले- नहीं बैठना चाहिए चैन से

  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Punjab Agricultural Payments, Punjabi Artists With Farmers; Babbu Maan, Guggu Gill, Japji Khaira And Dev Kharor Mentioned Ought to Not Sit Peacefully
जालंधर2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मोगा में आम आदमी पार्टी की तरफ निकाले गए रोष मार्च में शामिल कृषि विधेयकों का विरोध करने वाले। इस दौरान पंजाबी कलाकार देव खरोड़ और जपजी खैहरा भी शामिल हुए।

  • पंजाबी फिल्मों में लीड रोल में दिखने वाले एक्टर देव खरोड़ और अभिनेत्री जपजी खैहरा मोगा में आम आदमी पार्टी के रोष मार्च में शामिल हुए
  • कहा-हम किसी पार्टी के साथ सबंधित नहीं हैं, बल्कि किसान के बेटा-बेटी होने की खातिर किसानों के हक में खड़े हैं
  • वीडियो जारी कर गुग्गू गिल ने भी की 25 के बंद को सफल बनाने की अपील, किसान-मजदूर, दुकानदार हर किसी को एकजुट होकर चलना होगा, तभी यह सरकार जागेगी

केंद्र सरकार के कृषि विधेयकों के विरोध में न सिर्फ राजनैतिक पार्टियां, बल्कि कलाकार और लेखक वर्ग भी किसानों के साथ खड़ा है। बब्बू मान, देव खरोड़, गुग्गू गिल, जपजी खैहरा और यहां तक कि विवादित सिंगर सिद्धू मूसेवाला सभी एक सुर में हक नहीं मिलने तक किसानों को चैन से नहीं बैठने की बात कर रहे हैं। 25 सितंबर को पंजाब बंद के साथ ही बब्बू मान समर्थकों के साथ प्रदर्शन में शामिल होने का ऐलान कर चुके हैं, वहीं गुरुवार को मोगा में आम आदमी की तरफ निकाले गए रोष में पंजाबी फिल्मों में लीड रोल में दिखने वाले एक्टर देव खरोड़ और अभिनेत्री जपजी खैहरा भी शामिल हुए। उन्होंने कहा कि वो किसी पार्टी के साथ सबंधित नहीं हैं, बल्कि किसान के बेटा-बेटी होने की खातिर किसानों के हक में खड़े हैं।

मोगा में रोष मार्च में शामिल हुई पंजाबी फिल्म अभिनेत्री जपजी खैहरा।

मोगा में रोष मार्च में शामिल हुई पंजाबी फिल्म अभिनेत्री जपजी खैहरा।

2007 में पंजाबी फिल्म मिट्‌टी वाजां मारदी से हीरोइन के रूप में कॅरियर शुरू करने के बाद अब तक 14 पंजाबी फिल्मों में आ चुकी अभिनेत्री जपजी खैहरा ने कहा कि किसान हमारी जान है और अब हमारी जान पर बन आई है। जब तक किसानों को बड़े व्यापारियों के चंगुल में डालने वाले ये विधेयक रद्द नहीं हो जाते, किसी को भी चैन से नहीं बैठना चाहिए। उन्होंने कहा कि किसानों के बिना पंजाबी फिल्म इंडस्ट्री के वजूद को कायम रखना मुश्किल हो जाएगा।

रोष मार्च का हिस्सा बने पंजाबी एक्टर देव खरोड़ एक खुली कार में खड़े लोगों का अभिवादन करते हुए।

रोष मार्च का हिस्सा बने पंजाबी एक्टर देव खरोड़ एक खुली कार में खड़े लोगों का अभिवादन करते हुए।

उधर 2008 में पंजाबी फिल्म हस्र से इस लाइन में आए देव खरोड़ ने ठेठ पंजाबी लहजे में कहा कि जट्‌ट है तां हट्‌ट है यानि किसान है तो दुकान है, इसलिए अब दुकान वालों के लिए भी किसानों के साथ चट्‌टान बनकर खड़े होने का समय आ गया है। चाहे कोई भी वर्ग हो, शुक्रवार को एकजुट होकर अपना कामकाज बंद रखकर किसानों का साथ दें, ताकि केंद्र सरकार को हमारी एकता का आभास हो सके।

पंजाबी फिल्म निर्माता-निर्देशक और अभिनेता गुग्गू गिल लोगों से किसानों के समर्थन की अपील करते हुए।

पंजाबी फिल्म निर्माता-निर्देशक और अभिनेता गुग्गू गिल लोगों से किसानों के समर्थन की अपील करते हुए।

इसी तरह पंजाबी फिल्म निर्माता-निर्देशक और अभिनेता गुग्गू गिल ने एक वीडियो के जरिये कहा कि आजकल किसान भाइयों की मांग के लिए हर तरफ धरने दिए जा रहे हैं। यह बहुत अच्छी बात है। शुक्रवार 25 सितंबर को पंजाब बंद का ऐलान किया गया, हम सभी को इसमें बढ़-चढ़कर भाग लेना चाहिए। किसान-मजदूर, दुकानदार हर किसी को एकजुट होकर चलना होगा, तभी यह सरकार जागेगी। जो जहां भी इकट्‌ठा हो सके, वहां हो और सामाजिक एकता को संदेश दे। हमें सभी को यह नई व्यवस्था वापस होने तक किसी भी सूरत में रुकना नहीं। याद रहे, ‘जो सफर अख्तियार करते हैं, वही मंजिल को पाया करते हैं, बस कदम बढ़ाने की देर है, रास्ते भी उनका इंतजार करते हैं।’

0

Source link

Leave a Reply